CA बनने के लिए क्या पढ़े: जानिए पूरे विस्तार से?

वर्तमान में भारत के बहुत से विधार्थी CA बनने का सपना देखते है। यह एक अधिक पैसे वाली जॉब होती हैं। यह वित्तीय सेवा की एक प्रतिष्ठित जॉब होती है। अगर आप भी CA बनना चाहते है तो यह लेख आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकता है। क्योंकि इस लेख में हम आपको CA बनने के लिए क्या पढ़े और इसके लिए क्या योग्यताएं होती है। इन सभी की जानकारी इस लेख में आपको देगें। तो चलिए शुरू करते है!

CA क्या होता हैं?

CA एक वित्तीय क्षेत्र की जॉब होती है। CA किसी कंपनी या वित्तीय मामलों को संभालता है। CA, किसी कंपनी के वित्तीय रिकॉर्ड को रखना, उन्हें ठीक करना, टैक्स फाइल जमा करवाना या ऑडिट करना और बेहतर वित्तीय सलाह देता है जो की कम्पनी के लिए फायदेमंद होती है।

CA द्वारा किसी कंपनी या निजी व्यक्ति या अन्य निजी संस्थान के लिए टैक्स फाइल देना या उन्हें लाभदायक वित्तीय सलाह देना होता है।

CA का फुल फॉर्म क्या होता है | CA Full Form In Hindi

CA का फुल फॉर्म चार्टेट अकाउंटेंट होता है। जिसे हिंदी में वित्तीय सलाहकार कहते है। CA की पढ़ाई अच्छे से करने के बाद आपको उच्च कोटि की हाई सैलरी वाली जॉब मिलने की संभावना बढ़ जाती है। अन्य चीज़ की पढ़ाई के मुकाबले CA की पढ़ाई करना थोड़ा मुश्किल माना जाता है।

CA बनने के फायदे?

CA बनने के बहुत से फायदे होते है अगर आप भी CA बनना चाहते है तो इससे होने वाले फायदों के बारे में जानना आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है जिनका विवरण निम्न प्रकार है!

  • CA के कोर्स को पूरा करने के बाद आप उच्च वेतन वाली नौकरी के लिए योग्य हो जाते है। इसी के साथ आप एक से अधिक संस्थान में भी काम कर सकते है। भारत में CA की औसतन वेतन 10 लाख रुपए है।
  • CA एक बहुत ही सम्मानजनक पेशा माना जाता है। CA को उनकी विशेषता और ज्ञान के लिए सम्मानित किया जाता है।
  • CA बनने के बाद आप वित्तीय प्रबंधन करने में कुशल हो जाते है जिससे आप अपने वित्तीय संबंधित फैसले ले सकते है।
  • CA बनने के बाद आप अपने अनुभव के आधार पर अधिक कमाई कर सकते है। CA किसी कम्पनी के लाभ के लिए मुख्य जिमेदार व्यक्ति होती है।

CA बनने के लिए न्यूनतम योग्यता क्या होनी चाहिए?

अगर आप की वित्तीय क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते है तो सीए बनना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए आपके पास कक्षा 12वी में कॉमर्स विषय होना अनिवार्य है तथा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 12वी की परीक्षा न्यून्तम 50 % अंको के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।  इसके बाद आप CA के कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है।

इसको भी पढ़े-   MSC Karne Ke Fayde: योग्यता, फीस, नौकरी और बेस्ट कॉलेज?

CA बनने के लिए क्या पढ़े?

CA बनने के लिए आपको इसका कोर्स करना होता है। इसके कोर्स को तीन भागों में बांटा गया है जिनका विस्तृत वर्णन नीचे बताया गया है!

1- CA Foundation-

यह CA बनने का पहला कदम या चरण होता है। इसमें आप कक्षा 12वीं की परीक्षा के बाद एडमिसन के लिए आवेदन कर सकते है। इसमें चार पेपर होते है!

  • पेपर 1: अकाउंटेंसी और व्यवसाय अध्ययन
  • पेपर 2: बिजनेस लॉ एंड एथिक्स
  • पेपर 3: बिजनेस मैथमेटिक्स एंड स्टेटिकस
  • पेपर 4: बिजनेस इकोनॉमिक्स एंड कॉमर्शियल नॉलेज

2 CA इंटरमीडिएट (IPCC)-

CA Foundation का कोर्स को पास करने के बाद आप CA इंटरमिडियट के लिए आवेदन कर सकते है। इंटरमेडिएट में दो समूह होते है जिनमे प्रत्येक समूह में चार पेपर होते है…

समूह- 1

  • अकाउंटिंग
  • कॉरप्रेट और कानून लॉ
  • कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटिंग
  • टेक्सियन

समूह- 2

  • एडवांस अकाउंटिंग
  • ऑडिटिंग एंड इंशोरेंस
  • बिजनेस स्ट्रेटेजी

इलेक्टिव पेपर:- इसमें आपके पास चार विकल्प होते है जिनमे से आपको किसी एक को चुनना होता है

  • इंटरनेशनल टेक्सन
  • इनफॉर्मेशन सिस्टम एंड कंट्रोल ऑडिट
  • फाइनेंशियल मैनेजमेंट
  • एडवांस कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटिंग

CA फाइनल-

CA इंटरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद CA फाइनल के लिए आवेदन कर सकते है। CA Final में भी दो समूह होते है और प्रत्येक समूह में चार पेपर होते है!

समूह 1

  • फाइनेंशियल रिपोर्टिंग
  • कॉरप्रेट एंड इकोनॉमिकल लॉ
  • एडवांस ऑडिटिंग एंड प्रोफेशनल एथिक्स
  • कॉस्ट मैनेजमेंट

समूह 2

  • एडवांस टेक्सन
  • डायरेक्ट टेक्सन
  • इंटरनेशनल टेक्सन

इलेक्टिव पेपर:- इसमें आपके पास तीन अलग अलग विकल्प होते है जिनमे से आपको किसी एक को चुनना होता है

  • इनडायरेक्ट टेक्सन
  • फाइनेंशियल मैनेजमेंट
  • एडवांस ऑडिटिंग

CA कितने साल का कोर्स होता है?

आप कक्षा 12 के बाद CA फाउंडेशन का कोर्स कर सकते है। अगर आप ऐसा करते है तो आपका CA का कोर्स 5 साल का होता है। अगर आप किसी कारण वश 12 के बाद CA फाउंडेशन में एडमिशन नहीं ले पाते है तो आप ग्रेजुएशन के बाद CA का कोर्स कर सकते है। ग्रेजुएशन के बाद CA कोर्स की अवधि 3 साल की होती है।

CA के कोर्स में एडमिशन केसे लें?

अगर आप भी CA बनना चाहते है और CA के कोर्स में एडमिशन लेना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको ICAI की वेबसाइट पर आवेदन करना होगा या आपको कक्षा 12 की परीक्षा के बाद सीए फाउंडेशन की परीक्षा पास करनी होगी। इस परीक्षा को पास करने के बाद ही आप सीए इंटरमिडियट के लिए योग्य होंगे।

CA के लिए भारत के प्रसिद्ध कॉलेज?

CA के कोर्स के लिए भारत में अनेक कॉलेज है जिन्हे आप अपनी सुविधा के अनुसार चुन सकते है लेकिन कॉलेज चुनते समय कॉलेज की प्रतिष्ठा, फीस, कोर्स की गुणवक्ता तथा प्लेसमेंट रिकॉर्ड को देखना चाहिए। CA के कोर्स के भारत के कुछ प्रसिद्ध कॉलेज निम्न प्रकार है …

  • ICAI- The Institute Of Chartered Accountants Of India
  • ICSI- The Institute Of Company Secretary of India
  • ICAMI- The Institute Of Cost Accounting Management Of India
  • IAI- The Institute Of Actuaries Of India
  • ISB- The Indian School of Business
  • IM- The Indian institute Of Management Lucknow
  • IIM-C- The Indian Institute Of management Calcutta
इसको भी पढ़े-   IIM क्या होता है: योग्यता, एडमिशन प्रक्रिया, फीस और नौकरी?

CA कोर्स की फीस कितनी होती है?

CA कोर्स की फीस आपके द्वारा चुने गए कॉलेज पर निर्भर करती है, उनके द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं और कोर्स की गुणवक्ता के आधार पर यह फीस अलग अलग हो सकती है। लेकिन सामान्य CA की फीस लगभग 50 हजार रुपए होती है।

जिसमे CA फाउंडेशन की फीस 10 हजार रुपए, CA इंटर मेडिएट की फीस 18 हजार रुपए तथा CA फाइनल की फीस 22 हजार रुपए होती है।

CA के कोर्स को करने के बाद क्या करे?

CA का कोर्स करने के बाद आपके पास अनेक करियर विकल्प होते है। CA का कोर्स करने के बाद अच्छे कैरियर के लिए आपके पास निम्न विकल्प होते है

  • आप किसी व्यक्ति के निजी वित्तीय सलाहकार भी बन सकते है। तथा उनके वित्तीय रिकॉर्ड को मेंटेन रख सकते है।
  • आप किसी निजी संस्थान में CA का काम कर सकते है या इनके वित्तीय सलाहकार बन सकते है।
  • आप सरकारी नौकरी के लिए भी जा सकते है।
  • आप शिक्षा के क्षेत्र में भी जा सकते है और विद्यार्थियों को CA की तैयारी करवा सकते है।
  • आप अपना स्वयं का व्यवसाय भी शुरू कर सकते है। जिसमे आप लोगो को वित्तीय सलाह दे सकते है या किसी व्यक्ति को टैक्स संबंधित जानकारी दे सकते है।
  • आप किसी कम्पनी के आंकड़ों का विश्लेषण कर सकते है।

CA की सैलरी कितनी होती है?

इस सवाल का कोई भी जवाब नहीं है क्योंकि एक CA की सैलरी कितनी भी हो सकती है। इनकी सैलरी कार्यानुभव पर निर्भर करती है। आपके पास जितना अनुभव होगा आप उतना ही पैसा कमा सकते है।

सरकारी नौकरी में एक CA की सैलरी 10 लाख प्रति वर्ष होती है। आप अपने स्वयं के व्यवसाय से अधिक पैसे कमा सकते है। अगर आपको लेखा जोखा का अच्छा अनुभव है तो आप एक साथ एक से अधिक कंपनियों के लिए काम कर सकते है और अधिक सैलरी ले सकते है।

अंतिम शब्द

आज के इस लेख में हमने आपको CA के लिए सभी आवश्यक जानकारी दी है जो की आपको CA की पढ़ाई के लिए महत्वपूर्ण होगी। इसे अपने दोस्तो में साथ भी शेयर करे जिससे उन्हें भी सीए बनने के लिए क्या पढ़े इसकी जानकारी मिल सके।

FAQs- CA बनने के लिए क्या पढ़े?

CA के कोर्स के लिए न्यूनतम योग्यता क्या है?

CA के कोर्स के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 12 कॉमर्स विषय के साथ न्यूनतम 50 प्रति शत अंको के साथ उत्तीर्ण करना अनिवार्य होता है।

CA का क्या काम होता है?

सीए का काम किसी कम्पनी या व्यक्ति के वित्तीय संबंधी लेखा जोखा संभालने की होती है। तथा आंकड़ों के आधार पर उन्हें वित्तीय सलाह देना होता है।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!