MSW Course Details in Hindi: MSW कोर्स क्या है? पूरी जानकारी

इस लेख की रूपरेखा:

MSW Course Details in Hindi?

कोर्स का पूरा नाममास्टर ऑफ सोशल वर्क
डिग्रीपोस्ट ग्रेजुएशन
कोर्स अवधि2 साल
योग्यता 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक
कोर्स फीस5000-70000 प्रति साल 
कोर्स के बाद नौकरीप्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर, लेक्चरर, प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर,
जुनियर रिसर्च फैलो, डिस्ट्रिक्ट कंसलटेंट, सीनियर मैनेजर
औसत वेतन15000-30000 रुपये प्रति महीना 

MSW का मतलब मास्टर ऑफ सोशल वर्क होता है। आजकल भारत मे MSW के द्वारा बहुत सारे युवा अपना करियर बना रहे है। यदि आपको MSW में रुचि है तो आप भी MSW कोर्स करके अपना करियर बना सकते है। MSW एक तरह की एक मास्टर्स की डिग्री होती है। यदि आप MSW Course Details in Hindi के बारे में सम्पूर्ण और विस्तृत जानकारी जानना चाहते है तो ये आर्टिकल आपके लिए बेस्ट होगा।

इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार से MSW कोर्स क्या होता है, MSW की योग्यता क्या चाहिए, इसकी फीस कितनी है, MSW Syllabus in Hindi, MSW कोर्स करने के फायदे और MSW के लिए भारत की टॉप युनिवर्सिटीज़ जैसी और भी कई सारी महत्वपूर्ण चीज़ों को विस्तार से बताएगें।

MSW कोर्स क्या होता है? | What is MSW in Hindi

MSW को मास्टर ऑफ़ सोशल वर्क भी कहा जाता है। यह एक मास्टर डिग्री होती है। MSW कोर्स में विद्यार्थी को सामाजिक कार्य के बारे में पढ़ाया जाता है। इस कोर्स को करने के लिए आपको 2 साल का समय देना पड़ता है। MSW कोर्स समाज सेवा से संबंधित एक विशेष कोर्स होता है। इस कोर्स को करके आप समाज सेवा में भाग ले सकते है।

यदि आपको सामजिक कार्यों को करके समाज मे परिवर्तन लाने में रुचि है तो ये कोर्स आपके लिए एक बेहतरीन कोर्स साबित हो सकता है। आप इस कोर्स को करके समाज मे परिवर्तन ला सकते है। जिसके बाद आपकी इज्जत समाज मे और अधिक बढ़ जायेगी।

MSW कोर्स में मुख्य रूप से विद्यार्थी को सोशल साइंस, सोशियोलॉजी, साइकोलॉजी, पोलिटिकल साइंस और इकोनॉमिक्स जैसे विषयो को पढ़ाया जाता है। यदि आप आज के समय मे MSW कोर्स कर लेते है तो आपके सामने करियर के कई सारे विकल्प खुल जाते है। आप अपनी रुचि और लक्ष्य के अनुसार इसका चुनाव कर सकते है।

MSW का फुल फॉर्म क्या होता है | MSW Full Form in Hindi?

MSW का पूरा फॉर्म “Master Of Social Work” होता है। यह एक 2 साल का कोर्स होता है। यह एक ऐसा कोर्स है जिसको करने के लिए आपको स्नातक पास होना बहुत जरूरी है। इस कोर्स में विद्यार्थियों को सामाजिक समस्याओं और उनके निवारण के बारे में उच्च कोटि की शिक्षा दी जाती है। यदि आपको सामाजिक समस्याओं और उनके निवारण जैसे विषयों में रुचि रखते है तो ये कोर्स आपके लिए सबसे अच्छा हो सकता है।

MSW के लिए योग्यता | MSW Course Eligibility

जब आप MSW कोर्स में एडमिशन लेने जाते है तो कई सारी योग्यता आपके अंदर होना जरूरी है। कुछ महत्वपूर्ण योग्यता को हम यहां शेयर कर रहे है। बिना इन योग्यता के आपका एडमिसन MSW में नही होगा।

इसको भी पढ़े-   DOTT Course Details: DOTT कोर्स क्या है? पूरी जानकारी

  • MSW कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको स्नातक पास होना जरूरी है। बिना स्नातक पास के आपका एडमिसन इस कोर्स में नही होगा।
  • भारत के कई सारे विश्वविद्यालयों में MSW कोर्स में एडमिशन के लिए स्नातक प्रथम श्रेणी से पास होना जरूरी होता है। यह भारत के सभी विश्वविद्यालयों में लागू नही होता है। कुछ ही विश्वविद्यालयों में लागू होता है। इसलिए आपको इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा।
  • MSW course में एडमिशन लेने के लिए भारत के कुछ विश्वविद्यालयों में प्रवेश परीक्षा भी देना पड़ता है। इसके प्रवेश परीक्षा में गणित, सामाजिक विज्ञान और सामान्य ज्ञान जैसे विषयों से प्रश्न पूछे जाते है। प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद ही इन कॉलेजो में एडमिसन होता है।

यदि आप ऊपर बताये गए तीनो चीज़ों में योग्य है तब आप MSW कोर्स में आसानी से एडमिशन ले सकते है। आप MSW कोर्स करके समाज सेवा में आपका एक बेहतरीन योगदान दे सकते है। मुझे उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

MSW कोर्स की फीस कितनी होती है? | MSW Course Fees

भारत मे MSW कोर्स की फीस अलग अलग विश्वविद्यालयों में अलग अलग होती है। यदि आप प्राइवेट विश्वविद्यालय से MSW का कोर्स करते है तब आपकी एक औसत फीस 40000-70000 रुपये प्रति साल तक हो सकती है। प्राइवेट विश्वविद्यालय में इसकी फीस सरकारी विश्वविद्यालय के मुकाबले थोड़ा अधिक होती है।

वही यदि आप सरकारी विश्वविद्यालयों में MSW का कोर्स करते है तब आपकी फीस बहुत ही कम लगती है। सरकारी विश्वविद्यालयों में आपकी फीस 5000-20000 रुपये प्रति साल तक लगती है। आप छत्रवृत्ति जैसे चीज़े को भरकर इन फीस को और अधिक कम कर सकते है। इसलिए कह सकते है कि MSW कोर्स के लिए सरकारी कॉलेज सबसे बढ़िया होगा।

आप किसी भी विश्वविद्यालयों की सटीक फीस उस विश्वविद्यालयों के वेबसाइट पर जाकर उनसे संपर्क करके निकाल सकते है। इन फीस के अलावा छात्र के और भी सारे खर्चे होते है। जिनके बारे में आपको पहले से पता होना चाहिए। आप इन सभी चीज़ों को ध्यान में रखकर ही MSW कोर्स में एडमिसन लेने जाये।

एमएसडब्ल्यू कोर्स का सिलेबस | MSW Course Syllabus in Hindi

MSW एक 2 साल का कोर्स होता है। इन 2 सालो में विद्यार्थियों को 4 सेमस्टर की पढ़ाई करवाई जाती है। इन 4 सेमेस्टर में स्टूडेंट को सामजिक कार्यों के बारे में ब्यापक ज्ञान दिया जाता है। यहां हम नीचे MSW Course Syllabus in Hindi को सेमेस्टर वाइस शेयर कर रहे है। उम्मीद है ये जानकारी आपके काम की होगी।

सेमेस्टर 1

  • हिस्ट्री एंड फिलॉसोफी ऑफ सोशल वर्क ( History and Philosophy of Social Work )
  • ह्यूमन ग्रोथ एंड डेवलपमेंट ( Human Growth and Development )
  • सोशल वर्क रिसर्च एंड क्वांटिटेटिव एनालिसिस ( Social Work Research and Quantitative Analysis )
  • सोशल प्रॉब्लम एंड सोशल डेवलपमेंट ( Social Problems and Social Development )
  • सोशल वर्क प्रैक्टिकल-II (स्किल डेवलपमेंट अस्सेस्मेंट)
  • सोशल वर्क प्रैक्टिकल -I (स्ट्रक्चर्ड एक्सपीरियंस लेबोरेटरी एंड रिसर्च मेथोलॉजी प्रैक्टिकल )
  • IT इन सोशल सैक्टर ( IT in social sector )

सेमेस्टर 2

  • सोशल एक्सक्लूशन एंड इंक्लूसिव पॉलिसी ( Social Exclusion and Inclusive Policy )
  • रिहैबिलिटेशन एंड रिसेटलमेंट ( rehabilitation and resettlement )
  • सोशल वर्क मेथड्स ( social work methods )
  • विज़ुअल कल्चर ( visual culture )
  • सोशल वर्क प्रैक्टिकल-III (कंकररेंट फील्डवर्क – कम्युनिटी प्लेसमेंट)
  • सोशल वर्क प्रैक्टिकल -IV (लर्निंग सोशल वर्क थ्रू पार्टिसिपेटरी अप्रोच)
  • कम्युनिटी इन्टर्वेंशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट ( Community Intervention and Entrepreneurship Development )

सेमेस्टर 3

  • आइडियोलॉजी एंड एथिक्स ऑफ़ सोशल वर्क ( Ideology and Ethics of Social Work )
  • सोशल लेजिस्लेशन एंड लेबर वेलफेयर ( Social Legislation and Labor Welfare )
  • वल्नरेबल चिल्ड्रन एंड डेवलपमेंट इलेक्टिव -I ( Vulnerable Children And Development Elective -I )
  • सोशल वर्क प्रैक्टिकल-V (कंकररेंट फील्डवर्क – एजेंसी प्लेसमेंट)
  • सोशल वर्क प्रैक्टिकल -VI (माइक्रो लेवल स्टडी ऑन सोशल एक्सक्लूज़न)

सेमेस्टर 4

  • सोशल वर्क एडमिनिस्ट्रेशन ( social work administration )
  • कॉर्पोरेट सोशल रेस्पॉन्सिबिलिटी ( Corporate Social Responsibility )
  • ट्राइबल एंथ्रोपोलॉजी एंड सोशल वर्क इलेक्टिव-II ( Tribal Anthropology and Social Work Elective-II )
  • ब्लॉक फील्ड वर्क प्लेसमेंट ( block field work placement )
  • फंडामेंटल ऑफ़ मेडिकल सोशल वर्क ( Fundamentals of Medical Social Work )

MSW करने के फायदे | MSW Karne Ke Fayde

जब आप MSW का कोर्स करने के लिए जाते है तो आपके दिमाक में ये बात जरूर आता होगा कि आखिर हमको MSW कोर्स करने से क्या फायदा होग। यहां हम आपके साथ MSW कोर्स करने के कुछ महत्वपूर्ण फायदे को शेयर कर रहे है। उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

इसको भी पढ़े-   BPP Course Details in Hindi: बीपीपी के बारे में सब कुछ जाने?

  • MSW कोर्स करने के बाद आप समाज मे परिवर्तन ला सकते है। आप इस कोर्स के माध्यम से सामाजिक मुद्दों को समझकर उसके सुधार में अपना योगदान दे सकते है।
  • MSW कोर्स करने के बाद आप सामाजिक क्षेत्र में अपना एक बढ़िया नेटवर्क बना सकते है। आप पेशेवर के लोगो के साथ सम्पर्क बनाकर अपने करियर को और आगे ले जा सकते है।
  • MSW कोर्स के माध्यम से आप समाज सेवा कर सकते है। आप इस फील्ड में नौकरी लेकर गरीब और असहाय लोगो की मदद कर सकते है। जो कि एक बहुत ही अच्छा काम है।
  • MSW कोर्स करने के बाद आप सामाजिक क्षेत्र में बेहतरीन नौकरी पा सकते हैं। और अपना एक बेहतरीन करियर बना सकते है।
  • MSW कोर्स करने के बाद आप सामाजिक क्षेत्र की विभिन्न विधाओं, नीतियों, कानूनों, और तकनीकों के बारे मे अच्छा ज्ञान हो जायेगा। आप इन ज्ञान का उपयोग अपने दैनिक जीवन मे कर सकते है।
  • MSW कोर्स करने के बाद आप सामरिक संगठन में एक बढ़िया जॉब पा सकते है। सामरिक संगठन आपको सामाजिक सेवा करने का बढ़िया अवसर देता है।

हमने आपको ऊपर MSW कोर्स करने के कुछ बेहतरीन फायदे के बारे में बताया है। इनके अलावा और भी बहुत से फायदे है MSW कोर्स करने। उम्मीद है ये जानकारी आपको पसंद आई होगी।

MSW कोर्स के लिए भारत की टॉप कॉलेज

भारत मे कई सारे ऐसे कॉलेज है जो MSW का कोर्स करवाते है। उन कॉलेज में से आपको सबसे बढ़िया कॉलेज का चुनाव करना काफी संघर्ष का काम है। यहां हम आपके साथ MSW कोर्स के लिए भारत की टॉप कॉलेज को शेयर कर रहे है। उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

  • टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेज़ (टिस्स), मुंबई
  • दिल्ली विश्वविद्यालय दिल्ली
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, दिल्ली
  • मानव रचना इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेज़, गुवाहाटी
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी
  • शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • जमिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली
  • गुरु नानक देव विश्वविद्यालय, पंजाब
  • राष्ट्रीय संगणक विज्ञान संस्थान (एनसीआर), बंगलौर
  • नागरिक समर्पण संस्थान (ताटा इंस्टीट्यूट), मुंबई
  • सरस्वती नारायण स्वामी महाविद्यालय, पुणे
  • महात्मा गांधी विश्वविद्यालय, चेन्नई

इन सभी कॉलेज की योग्यता, पाठ्यक्रम और फीस थोड़ा अलग अलग हो सकती है। आप इन कॉलेज की वेबसाइट पर जाकर MSW कोर्स के बारे में एकदम सही और सटीक जानकारी ले सकते है।

MSW कोर्स करने के बाद क्या क्या नौकरी मिलती है?

भारत मे MSW कोर्स करने के बाद आपको कई तरह की बेहतरीन नौकरी मिल सकती है। आप इन नौकरियों के माध्यम से आपका एक बढ़िया करियर बना सकते है। MSW कोर्स करने के बाद मिलने वाली कुछ महत्वपूर्ण नौकरियों को हम आपके साथ शेयर कर रहे है।

  • प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर
  • सामाजिक कार्यकर्ता
  • सामुदायिक कार्यकर्ता
  • बाल संरक्षण अधिकारी
  • मेडिकल सोशल वर्कर
  • लेक्चरर
  • प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर
  • जुनियर रिसर्च फैलो
  • डिस्ट्रिक्ट कंसलटेंट
  • डॉक्यूमेंटेशन एंड कम्युनिकेशन ऑफिसर
  • सीनियर मैनेजर – ह्यूमन रिसोर्सेज़

इन सभी नौकरियों के अलावा और भी कई तरह की बढ़िया नौकरी आपको MSW कोर्स करने के बाद मिल सकती है। आप अपनी रुचि और करियर लक्ष्य के हिसाब कोई बढ़िया निर्णय ले सकते है।

क्या MSW कोर्स वाले भारत में अच्छा पैसा कमाते हैं?

यदि आप MSW कोर्स करने जा रहे है तो आपके दिमाक में ये बात जरूर आती होगी कि क्या MSW कोर्स वाले भारत में अच्छा पैसा कमाते हैं। और आपका ये सवाल बिल्कुल वाजिब हैं

जो व्यक्ति MSW कोर्स करने जाते है वह पैसे से ज्यादा सामाजिक कार्य को प्राथमिकता देते है। कुछ संगठन और सरकारी संस्थान है जो MSW कोर्स करने वाले को अच्छी सैलरी देती है। लेकिन इस बात को हम टाल नही सकते कि बहुत सारे सामाजिक कार्यकर्ता की सैलरी बहुत कम होती है।

इसको भी पढ़े-   CFP Course Details: फायनेंशियल प्लानर बनने का आधुनिक मार्ग।

जैसे जैसे इन फील्ड में आपको अनुभव होता जाता है वैसे वैसे आपको इसमे नये नये तरीके पैसे कमाने के मिलते रहते है। यदि आप MSW कोर्स पैसे कमाने के लिए करने जा रहे है तो आप इसके बजाय आप नए क्षेत्रों में जा सकते है।

MSW कोर्स के बाद क्या करना चाहिए?

जब आप MSW कोर्स को पूरा कर लेते है उसके बाद आपके सामने कई सारे करियर विकल्प खुल जाते है। यहां हम आपके साथ MSW कोर्स के बाद कुछ मुख्य विकल्प को शेयर कर रहा हूँ। उम्मीद है ये जानकारी आपके काम की होगी।

प्राइवेट सेक्टर में नौकरी: MSW कोर्स करने के बाद जो ज्ञान और कौशल आपको मिलता है उसका उपयोग करके आप प्राइवेट सेक्टर में नौकरी आसानी से पा सकते है। इन प्राइवेट सेक्टर की नौकरियों की सैलरी भी काफी अच्छा होता है। MSW कोर्स करने के बाद यह एक बहुत ही बढ़िया विकल्प है।

सरकारी नौकरी: MSW कोर्स करने के बाद जो ज्ञान और कौशल आपको मिलता है उसके माध्यम से आप सरकारी नौकरी भी ले सकते है। भारत सरकार सामाजिक कार्यकर्ता, योजना सहायक, सामाजिक प्रबंधक और प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर के पढ़ो पर भर्ती समय समय पर निकालती रहती है। आप उनमे आवेदन करके अपने लिए एक सरकारी नौकरी ले सकते है।

खुद का व्यापार: आप अपना खुद का कोई सामाजिक संस्था की स्थापना करके समाज में अपनी अलग पहचान बना सकते हैं। ऐसा करके आप समाज में एक परिवर्तन ला सकते है। इसमे आपकी उतनी कमाई नही होती है लेकिन इसमें आपको इज्जत बहुत ज्यादा मिलती है।

विद्यार्थियों को पढ़ाना: MSW कोर्स करने के बाद आप टीचर के रूप में भी काम कर सकते है। इसके साथ साथ आप गरीब और असहाय बच्चों को शिक्षा देकर समाज मे अपनी एक अलग पहचान बना सकते है। यह एक नेक काम होता है जिसको करने के बाद मन से शांति मिलती है।

इन विकल्पों के अलावा और भी कई सारे विकल्प है। आप अपनी रुचि के हिसाब से इन विकल्पों को चुन सकते है। अब ये आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप इन सभी विकल्पों में से किसका चुनाव करते है।

MSW के बाद कौनसा कोर्स करें?

MSW की पढाई पूरा करने के बाद आप कई सारे कोर्स कर सकते हैं! कुछ महत्तपूर्ण कोर्स के नाम निम्नलिखित हैं!

  • सामाजिक कार्य में एमफिल
  • सामाजिक कार्य में पीएचडी
  • सामाजिक उद्यमिता में एमबीए
  • मानवाधिकार में एलएलएम
  • आपराधिक न्याय में एलएलबी
  • सार्वजनिक स्वास्थ्य में एमएससी
  • महामारी विज्ञान में एमएससी
  • डेटा साइंस में एमएससी
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में एमएससी
  • सामाजिक कार्य में पीजी डिप्लोमा

निष्कर्ष:

मुझ पूरी उम्मीद है कि अब तक आपको MSW course details in hindi के बारे में अच्छी जानकारी हो गई होगी। आप ऊपर बताये गये सभी बिंदु को ध्यान में रखकर अपने करियर के बारे में निर्णय ले सकते है। यदि आपकी रुचि MSW course में है तो आप इसको भी करके अपने समाज मे एक बहुत ही बढ़िया परिवर्तन ला सकते है। इस पूरे आर्टिकल के ऊपर आप अपने विचार को हमको कमेंट बॉक्स में जरूर बताये।

MSW Course Details in Hindi के बारे में सामान्य प्रश्न?

क्या मैं बीटेक के बाद MSW कर सकता हूं?

हाँ, आप बीटेक के बाद MSW कोर्स कर सकते हैं। MSW एक Social Work का कोर्स है आप इस कोर्स को करके सामाजिक कार्यो में अपना योगदान दे सकते है।

भारत में MSW करने वालो की सैलरी कितनी है?

भारत में MSW करने वालो की सैलरी उनके अनुभव और कार्य के पद पर निर्भर करती है। MSW करने वालो की एक औसत सैलरी 15000-30000 रुपये प्रति महीना तक हो सकती है।

MSW में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

MSW एक दो साल का कोर्स होता है और इसमे 4 सेमेस्टर को पढ़ाया जाता है। MSW में मुख्य रूप से सामाजिक कार्य की प्राथमिकताएं, सामाजिक विज्ञान, विकासीय, मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, सामाजिक संगठन और प्रबंधन और सामाजिक प्रदायकता और समुदाय सेवा जैसे सब्जेक्ट को पढ़ाया जाता है।

क्या मैं 12वीं के बाद MSW कर सकता हूं?

नहीं! आप 12वीं के बाद MSW नही कर सकते है। MSW एक मास्टर डिग्री का कोर्स है। MSW का कोर्स करने के लिए आपको स्नातक पास होना जरूरी है।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

2 thoughts on “MSW Course Details in Hindi: MSW कोर्स क्या है? पूरी जानकारी”

Leave a Comment

error: Content is protected !!