पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में कितना पैसा लगता है?

यदि आप पॉलिटेक्निक का कोर्स करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में कितना पैसा लगता है इस चीज़ की जानकारी होनी चाहिए। यदि आपको पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में कितना पैसा लगता है इस चीज़ की जानकारी नही है तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं।

इस लेख में हम आपको पॉलिटेक्निक क्या होता है, पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में कितना पैसा लगता है, पॉलिटेक्निक की फीस कितनी होती है और पॉलिटेक्निक में सबसे अच्छा कोर्स कौन सा होता है जैसी और कई महत्वपूर्ण चीज़ों के बारे में पूरे विस्तार से बतायेगें। तो चलिये शुरू करते हैं।

पॉलिटेक्निक क्या होता है | What is Polytechnic in Hindi?

पॉलिटेक्निक एक तरह से एक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसको विद्यार्थी 10वीं और 12वीं के बाद करना सबसे ज्यादा पसंद करते हैं। पॉलिटेक्निक कोर्स की अवधि आमतौर पर 2-3 साल की होती है। पॉलिटेक्निक का कोर्स करने के बाद आप इंजीनियरिंग के फील्ड में एक उच्च कोटि का करियर बना सकते हैं।

पॉलिटेक्निक के कोर्स में विद्यार्थियों को तकनीकी सम्बन्धी चीज़ों के बारे में ज्यादा ज्ञान दिया जाता है। पॉलिटेक्निक का कोर्स करने के बाद आप शुरुआती ₹15000 से ₹25000 प्रति महीने वाली नौकरी आसानी से पा सकते हैं।

पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में कितना पैसा लगता है?

बहुत से विद्यार्थियों के मन मे ये सवाल रहता है कि आखिर पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में कितना पैसा लगता है। यदि आप ये जानना चाहते हैं तो आप सही जगह पर हैं।

यदि आप जनरल या फिर ओबीसी कैटेगरी से आते हैं तो पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में आपको ₹300 तक लग सकता है। वही यदि आप SC या फिर ST कैटेगरी से आते हैं तो आपको पॉलिटेक्निक का फॉर्म भरने में ₹200 तक कि फीस लग सकती है।

पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस कितनी होती है? | Polytechnic Ki Fees Kitni Hoti Hai

पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस अलग अलग कॉलेज में अलग अलग होती है। सरकारी कॉलेजो में फीस थोड़ा कम लगता है वही प्राइवेट कॉलेज में सरकारी कॉलेज के मुकाबले पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस अधिक होती है।

भारत मे सरकारी कॉलेजो में पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस औसतन ₹18000 से ₹22000 प्रति साल तक हो सकता है। वही प्राइवेट कॉलेजो में पॉलिटेक्निक कोर्स की फीस औसतन ₹35000 से ₹50000 प्रति साल का हो सकता है।

पॉलिटेक्निक में पास होने के लिए कितने मार्क्स चाहिए?

पॉलिटेक्निक के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए एक प्रवेश परीक्षा देने पड़ता है। प्रवेश परीक्षा में अच्छे अंक आने के बाद ही आपका एडमिशन पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए होता है। यहाँ हम आपको बताने जा रहे है कि पॉलिटेक्निक में पास होने के लिए कितने मार्क्स चाहिए।

इसको भी पढ़े-   रात को कितने बजे तक पढ़ना चाहिए: जानिये फायदे और नुकसान?

यदि आप जनरल कैटेगरी से आते हैं तो पॉलिटेक्निक के प्रवेश परीक्षा में एक बढ़िया सरकारी कॉलेज पाने के लिए आपको 60% से ज्यादा अंक लाना होगा। वही यदि आप एससी, एसटी और ओबीसी कैटेगरी से आते हैं तो एक बढ़िया सरकारी कॉलेज के लिए 40% से ज्यादा अंक लाना होगा।

पॉलिटेक्निक करने के बाद सैलरी कितनी होती है?

पॉलिटेक्निक करने के बाद विद्यार्थियों को प्राइवेट और सरकारी विभाग में उच्च कोटि की हाई सैलरी वाले जॉब मिलने की पूरी संभावना होती हैं।

पॉलिटेक्निक करने के बाद यदि किसी विद्यार्थी का जॉब सरकारी विभाग में लगता है तो उसको शुरुआती औसतन सैलरी ₹40000 से ₹50000 प्रति महीने तक मिल सकता है।

वही यदि पॉलिटेक्निक करने के बाद यदि किसी विद्यार्थी का जॉब प्राइवेट विभाग में लगता है तो उसको शुरुआती औसतन सैलरी ₹15000 से ₹25000 प्रति महीने तक मिल सकता है।

समय के साथ साथ अनुभव होने पर सरकारी और प्राइवेट दोनों विभागों की सैलरी और अधिक हो जाती है। इस तरह से कह सकते हैं कि पॉलिटेक्निक करने के बाद आपको एक अच्छी सैलरी मिलती है।

पॉलिटेक्निक में सबसे अच्छा कोर्स कौन सा होता है?

बहुत से विद्यार्थी ये जानना चाहते हैं कि पॉलिटेक्निक में सबसे अच्छा कोर्स कौन सा होता है। यहाँ हम आपको पॉलिटेक्निक में कुछ सबसे बेहतरीन कोर्स के बारे में बताने जा रहे हैं। उम्मीद है ये जानकारी आपको पसंद आयेगी।

  • डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन केमिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन जैव प्रौद्योगिकी

क्या पॉलिटेक्निक और बीए एक साथ कर सकते हैं?

जी हां, पॉलिटेक्निक और बीए (बैचलर ऑफ आर्ट्स) को एक साथ किया जा सकता है। भारत मे कई सारे कॉलेज ऐसे भी है जिनमें विद्यार्थी पॉलिटेक्निक के साथ-साथ बीए को भी पूरा कर सकते हैं।

यदि आप पॉलिटेक्निक और बीए एक साथ करते हैं तो आपको तकनीकी कौशल के साथ साथ सामान्य ज्ञान और कला से संबंधित कौशल का भी ज्ञान हो जाता है। यह दोनों कौशल आपको विभिन्न क्षेत्रों में कैरियर के विकल्प खोलता है।

क्या 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक एक अच्छा विकल्प है?

जी हाँ 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक एक अच्छा विकल्प है। 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक का डिप्लोमा कोर्स करके आप एक उच्च कोटि की हाई सैलरी वाला जॉब पा सकते है। इस तरह से हम कह सकते हैं कि 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक एक अच्छा करियर विकल्प है?

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!