टैली कोर्स करने के फायदे: टैली क्या होता है? सम्पूर्ण जानकारी

इस लेख की रूपरेखा:

यदि आप एक ऐसे कंप्यूटर कोर्स की तलाश में है जिसको करने में आपको बहुत कम समय लगे और जिसको करने के बाद आपको एक बढ़िया जॉब जल्द से जल्द मिल सके तो ऐसी स्तिथी में टैली का कोर्स करना आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है।

टैली एक तरह से एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर होता है जिसके माध्यम से कई महत्वपूर्ण काम किये जाते हैं। हर कोई आम आदमी टैली सॉफ्टवेयर को नही चला सकता है। टैली सॉफ्टवेयर को अच्छी तरह से चलाने के लिए आपको इसका कोर्स करके इसको सीखना पड़ता है।

आज हम इस लेख में आपको टैली क्या होता है, टैली कोर्स करने के फायदे, टैली सीखने में कितना समय लगता है, Tally कैसे सीखे, टैली करने से कौन सी जॉब मिलती है और टैली के बाद कितनी सैलरी वाला जॉब मिलता है के बारे में विस्तार से बतायेगें। तो चलिए शुरू करते हैं।

टैली क्या होता है | What is Tally in Hindi

Tally क्या होता है

Tally का मतलब “Transaction Allowed in a Liner Line Yards” होता है। टैली एक तरह से एक अकाउंटिंग कंप्यूटर सॉफ्टवेयर होता है जिसका उपयोग मुख्य रूप से छोटे और मध्यम बिजनेसमैन अपने खातों का रिकॉर्ड रखने, हिसाब-किताब रखने और उसके व्यवस्थापन के लिए करते हैं।

किसी भी कंपनी के एकाउंटिंग का काम टैली सॉफ्टवेर के माध्यम से किया जाता है। टैली सॉफ्टवेयर को सीखने में आमतौर पर 1-3 महीने तक का समय लगता है। 1-3 महीने के समय मे आप टैली सॉफ्टवेयर के माध्यम से काम कैसे किया जाता इसके बारे में गहराई से ज्ञान हो जाता है।

यदि आप अकाउंटिंग के फील्ड में अपना एक उच्च कोटि का करियर बनाना चाहते हैं तो आपके लिए टैली सॉफ्टवेयर सीखना काफी महत्वपूर्ण है। जब से भारत मे GST लागू हुआ है तब से टैली सॉफ्टवेयर सीखने वाले लोगो का डिमांड बहुत तेजी से बढ़ गया है।

ज्यादातर बैंकों और अन्य कंपनियों में अकाउंटिंग का काम Tally Software की मदद से ही किया जाता है। इसलिए Tally Software सीखना आपके लिए एक फायदे का सौदा हो सकता है। Tally Software को सबसे पहले श्याम सुन्दर गोयनका और उनके बेटे भारत गोयनका ने 1986 में बनाया था।

इसको भी पढ़े-   जानिए 2023 में निवास प्रमाण पत्र कितने साल तक चलता है?

Tally Karne Ke Fayde | टैली कोर्स करने के फायदे

टैली कोर्स करने के फायदे बहुत सारे हैं। टैली सॉफ्टवेयर सीखने के कुछ महत्वपूर्ण फायदे निम्नलिखित हैं।

  • टैली कोर्स करने के बाद आपको अकाउंटेंट, बुककीपर, इनवेंटरी मैनेजर, और बिलिंग मैनेजर जैसी उच्च कोटि की जॉब मिल सकती है।
  • टैली कोर्स करने के बाद आपको किसी बढ़िया कपड़े की दुकान, राशन की दुकान, मेडिकल शॉप, अस्पताल या फिर ऑफिस में अकाउंट को मैनेज करने का एक बढ़िया जॉब मिल सकते हैं। यह भी एक बढ़िया टैली कोर्स करने के फायदे है!
  • टैली कोर्स आपको वित्तीय डेटा को समझने और प्रबंधित करने के लिए एक बढ़िया कौशल सीखने का मौका देता है।
  • टैली कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद आप एक चार्टर्ड अकाउंटेंट के पास जॉब पा सकते हैं।
  • यदि आप एक बेरोजगार हैं तो आप यह 1-3 महीने की टैली कोर्स करने के बाद अपनी बेरोजगारी दूर कर सकते हैं। यह भी एक बढ़िया टैली कोर्स करने के फायदे है!
  • टैली कोर्स करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट कंपनी में पार्ट टाइम या फुल टाइम जॉब करके अच्छे पैसे कमा सकते हैं।
  • यदि आप एक बिज़नेसमैन है तो आप टैली का उपयोग करके अपने वित्तीय रिकॉर्ड को काफी बढ़िया तरीका से प्रबंधित कर सकते हैं। यह भी एक बढ़िया टैली कोर्स करने के फायदे है!
  • टैली का उपयोग करके आप अपने व्यक्तिगत वित्त का बेहतर प्रबंधन कर सकते हैं।
  • टैली कोर्स करने के बाद आपके पास एक प्रमाणित सर्टिफिकेट मिल जाता है। यह सर्टिफिकेट आपके कौशल और ज्ञान को प्रमाणित करता है।
  • टैली कोर्स से मिलने वाला ज्ञान और कौशल आपको एक मूल्यवान कर्मचारी बनने में मदद कर सकता है।

टैली कोर्स में क्या क्या सिखाया जाता है?

टैली के कोर्स कई सारी चीज़ों के बारे में सिखाया जाता है। टैली कोर्स के अंदर निम्नलिखित चीज़े को सिखाया जाता है।

  • लेखांकन के मूल सिद्धांत
  • दिन-प्रतिदिन के लेन-देन का लेखा-जोखा
  • पूर्ण ऑर्डर प्रोसेसिंग चक्र का प्रशासन
  • सैलरी के अलावा टीडीएस का हिसाब-किताब
  • महँगे और आय का आवंटन और ट्रैकिंग
  • बैंकिंग और भुगतान
  • डेटा प्रबंधन
  • टैली का उपयोग करके जीएसटी शिकायत रिकॉर्ड बनाए
  • एमआईएस रिपोर्ट तैयार करना
  • जीएसटी, माल के साथ शुरुआत करना
  • इन्वेंटरी मैनेजमेंट
  • वैधानिक और कराधान जीएसटी और टीडीएस
  • डेटा प्रबंधन और तकनीकी पहलू
  • जीएसटी का परिचय
  • जीएसटी, सेवाओं के साथ शुरुआत करना
  • इन्वेंटरी का भंडारण और वर्गीकरण
  • लेखांकन का सिद्धांत
  • आर्डर प्रोसेसिंग
  • रेसिवबल्स एंड पायबक्स मैनेजमेंट

टैली कोर्स का पाठ्यक्रम | Tally Course Syllabus In Hindi

टैली कोर्स में कई सारे विषय के बारे में पढ़ाया जाता है। Tally Course Syllabus के कुछ महत्वपूर्ण विषय निम्नलिखित है।

  • अकाउंटिंग
  • बिलिंग
  • बैंकिंग
  • इन्वेंटरी
  • पे रोल
  • टैक्सेशन

टैली सीखने में कितना समय लगता है?

टैली सीखने में आमतौर पर 1-3 महीने तक का समय लग सकता है। इन 1-3 महीने में आपको टैली सॉफ्टवेयर को पूरे गहराई से सिखाया जाता है। टैली सीखने के बाद आपको एक बढ़िया जॉब मिल सकता है। आप इतने कम समय मे टैली सिखकर अपना एक बढ़िया करियर बना सकते हैं।

टैली कोर्स सीखने में कितना खर्च आता है?

टैली कोर्स सीखने में कितना खर्च आता है यह बात आपके संस्थान पर निर्भर करता है। टैली कोर्स सीखने में आमतौर पर औसतन ₹8000- ₹10000 तक का खर्चा आता है।

टैली कैसे सीखे?

बहुत से लोग के दिमाक में ये सवाल होता है कि टैली कैसे सीखे। टैली का कोर्स करने के कई सारे तरीके हैं। आप किसी संस्थान में एडमिशन लेकर टैली का पूरा कोर्स कर सकते है। इसके अलावा आप ऑनलाइन यूट्यूब की मदद से टैली काफी अच्छे से सीख सकते हैं।

इसको भी पढ़े-   B.A. पास महिलाओं के लिए ये है 17 श्रेष्ठ सरकारी नौकरियां?

यूट्यूब पर कई सारे टैली से रिलेटेड कोर्स और ट्यूटोरियल मौजूद है। आप उन कोर्स और ट्यूटोरियल की मदद से बहुत आसानी से टैली सीख सकते हैं।

टैली सीखने के टॉप संस्थान?

यहाँ हम आपके साथ कुछ महत्वपूर्ण और टॉप संस्थान बताने जा रहे हैं जहाँ से आप टैली काफी आसानी से सीख सकते हैं।

  • इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्यूटर अकाउंटेंट्स
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज, चेन्नई
  • संत गाडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय, अमरावती
  • सेंट टेरेसा कॉलेज, केरल
  • भोपाल स्कूल ऑफ सोशल साइंस, भोपाल
  • वूमेन क्रिश्चियन कॉलेज, चेन्नई
  • वाईएमसीए इंस्टीट्यूट ऑफ ऑफिस मैनेजमेंट, नई दिल्ली

टैली करने के बाद कौन-कौन से फील्ड में जॉब मिलता है।

टैली करने के बाद आपको कई सारी फील्ड में काफी अच्छे अच्छे जॉब मिल सकते हैं। कुछ महत्वपूर्ण जॉब के फील्ड निम्नलिखित हैं।

  • बैंकिंग और वित्त
  • व्यापार और वाणिज्य
  • उत्पादन और निर्माण
  • कृषि और पशुपालन
  • सरकारी क्षेत्र
  • शिक्षण और प्रशिक्षण
  • अनुसंधान और विकास
  • IT और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर
  • स्वयं व्यवसाय
  • फ्रीलांसिंग
  • सॉफ्टवेयर और आईटी
  • सरकारी और गैर-सरकारी संगठन
  • स्वयं-रोजगार
  • फ्रीलांसिंग

टैली करने के बाद कौन सी जॉब मिलती है?

टैली करने के बाद आपको कई सारी बढ़िया बढ़िया जॉब मिल सकती है। टैली करने के बाद मिलने वाले कुछ महत्वपूर्ण जॉब निम्नलिखित है।

  • अकाउंटेंट
  • टैली ऑपरेटर
  • टैली अकाउंट्स मैनेजर
  • टैली जूनियर अकाउंटेंट
  • टैक्स अकाउंटेंट
  • एकाउंटिंग एग्जीक्यूटिव
  • टैली सपोर्ट इंजीनियर
  • टैली प्रशिक्षक
  • एकाउंटिंग असिस्टेंट
  • टैली सलाहकार
  • टैली सॉफ्टवेयर डेवलपर
  • सुपरवाइजरी अकाउंटेंट
  • सर्विस कोआर्डिनेट विथ टैली
  • इंवेंट्री मैनेजर
  • बुककीपर
  • टैली फ्रीलांसर

टैली सीखने के बाद कितनी सैलरी वाला जॉब मिलता है?

टैली सीखने के बाद मिलने वाले जॉब की शुरुआती औसतन सैलरी ₹10000- ₹30000 प्रति महीना तक हो सकती है। टैली सीखने के बाद आपको सरकारी और प्राइवेट दोनों जगहों पर जॉब मिल सकती है। टैली सीखने के बाद आप कभी भी बेरोजगार नही रहेगें।

क्या टैली कोर्स करना अच्छा विकल्प है?

हाँ, टैली कोर्स करना एक अच्छा विकल्प है। टैली एक काफी लोकप्रिय सॉफ्टवेयर है जिसका उपयोग भारत के साथ साथ विदेशो में भी किया जाता है। छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी कंपनियां अपने वित्तीय डेटा को प्रबंधित करने टैली सॉफ्टवेयर का उपयोग करती गया। इस तरह से कह सकते हैं कि टैली कोर्स करना एक काफी अच्छा विकल्प लोगो के लिए हो सकता है।

टैली सॉफ्टवेयर का प्रयोग कितने देश करते है?

टैली सॉफ्टवेयर का प्रयोग भारत मे तो होता ही है। भारत के अलावा टैली सॉफ्टवेयर का उपयोग 140 अन्य देशों में भी किया जाता है। टैली सॉफ्टवेयर का प्रयोग करने वाले कुछ प्रमुख्य देश पाकिस्तान, बांग्लादेश, मलेशिया, इंडोनेशिया, लेबनान, तंजानिया, नाइजीरिया, मोरक्को, जिम्बाब्वे, ऑस्ट्रिया, कुवैत, इराक, सीरिया, सऊदी, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन, मिस्र, ट्यूनीशिया, यमन, यूके, मॉरीशस और सिंगापुर है।

टैली कोर्स करने के फायदे के बारे में सामान्य प्रश्न?

Tally का फुल फॉर्म क्या है?

Tally का फुल फॉर्म है “Transactions Allowed in a Linear Line Yard” होता है। टैली का उपयोग वित्तीय डेटा को ट्रैक और प्रबंधित करने के लिए किया जाता है।

टैली कोर्स की अवधि कितनी दिनों की होती है?

टैली करने में कितना खर्च आता है?

टैली करने में कितना खर्च आता है यह उस संस्थान पर निर्भर करता है जहाँ से आप टैली कोर्स कर रहे हैं। आमतौर पर टैली करने में ₹8000- ₹10000 तक का खर्चा आ सकता है।

क्या टैली के बाद नौकरी मिल सकती है?

हाँ, टैली करने के बाद आपको टैली ऑपरेटर, टैली अकाउंटेंट टैली अकाउंट्स मैनेजर, कार्यकारी लेखा और लेखा सहायक की जॉब मिल सकती है।

टैली का अविष्कार कब और किसने किया?

भारत मे टैली का अविष्कार श्याम सुंदर गोयनका और उनके बेटे भारत गोयनका ने 1986 में किया था।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

4 thoughts on “टैली कोर्स करने के फायदे: टैली क्या होता है? सम्पूर्ण जानकारी”

  1. Kya Main Tally Sikh sakta hun Meri Umra 44 Baras hai aur kya mujhe job mil sakti hai aur Main Tally kahan se sikhun Bengaluru mein Delhi kahan per Sikhaya jaega

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!