BPP Course Details in Hindi: बीपीपी के बारे में सब कुछ जाने?

यदि आप एक ऐसे व्यक्ति हैं जिसने 10वीं और 12वीं की पढ़ाई नही की है और आप डायरेक्ट ग्रेजुएशन में एडमिशन लेने चाहते हैं तो बीपीपी कोर्स आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता हैं। बीपीपी कोर्स के माध्यम से आप बिना 10+2 की पढ़ाई किये हुए ग्रेजुएशन में एडमिशन ले सकते हैं।

आज हम इस लेख में BPP Course Details in Hindi के बारे में हर एक जरुरी और महत्वपूर्ण बात को जानेगें। इस पूरे लेख को पढ़ने के बाद आपको बीपीपी कोर्स के बारे में हर एक महत्वपूर्ण जानकारी मिल जाएगी। इसलिए इस पुरे लेख को अच्छे से और ध्यान से पढ़ें!

बीपीपी क्या होता है | What is BPP in Hindi

BPP का मतलब बैचलर्स प्रिपरेटरी प्रोग्राम होता है। बीपीपी एक तरह से एक प्रमाणपत्र होता है। BPP कोर्स की अवधि 6 महीने से लेकर 1 साल तक होती हैं।

बीपीपी कोर्स केवल उनके लिए महत्वपूर्ण हैं जिसने 10+2 की पढ़ाई नही किया हैं और वह बिना 10+2 की पढ़ाई के डायरेक्ट बैचलर कोर्स करना चाहते हैं। आप IGNOU के माध्यम से बीपीपी कोर्स करके किसी भी बैचलर कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

यदि आप बीपीपी कोर्स को सफलतापूर्वक कर लेते हैं उसके बाद आपको 10वीं और 12वीं की पढ़ाई करने की कोई जरूरत नही होती हैं। आप बीपीपी के प्रमाणपत्र के माध्यम से आगे की किसी भी बैचलर कोर्स में आसानी से एडमिसन ले सकते हैं।

भारत में बहुत से कॉलेज और संस्थान हैं जहाँ से आप बीपीपी कोर्स आसानी से करके इसका सर्टिफिकेट ले सकते हैं।

बीपीपी कोर्स का सिलेबस | BPP Syllabus in Hindi?

यदि आप बीपीपी कोर्स करने के बारे में सोच रहे है तो इसके सिलेबस के बारे में आपको पता होना चाहिए। यहाँ हम विस्तार से बीपीपी कोर्स के सिलेबस को बताने जा रहे हैं।

सोशल साइंस:

  • परेस्पेक्टिवेस एंड इंटररेलशनशिप्स
  • सामाजिक विज्ञान की भूमिका और प्रासंगिकता
  • आधुनिक दुनिया का निर्माण
  • भारत में राज्य और समाज
  • भारत में स्वतंत्रता के लिए संघर्ष
  • भारतीय संविधान: मूल विशेषताएँ
  • भारत में समकालीन समाज: परिवर्तन और निरंतरता
  • भारत में शासन: मुद्दे और चुनौतियाँ
  • भारतीय अर्थव्यवस्था की बुनियादी विशेषताएं
  • भारतीय विकास अनुभव
  • पारिस्थितिकी और पर्यावरण: मुद्दे और चुनौतियाँ
  • सामाजिक-आर्थिक और लिंग आधारित भेदभाव
  • जनसांख्यिकीय चुनौतियाँ
  • भारत में लोकतांत्रिक प्रक्रिया: चुनौतियाँ
  • समसामयिक विश्व

जनरल मैथमेटिक्स:

  • नंबर्स
  • अलजेब्रा
  • ज्योमेट्री
  • हैंडलिंग इंवेटमेंट्स एंड डेटा

कॉमर्स:

  • बेसिक कॉन्सेप्ट्स ऑफ एकाउंटिंग
  • बुक्स ऑफ एकाउंट-1
  • बुक्स ऑफ एकाउंट-2
  • फाइनल एकाउंट- 1
  • फाइनल एकाउंट- 2

बीपीपी कोर्स की अवधि | BPP Course Duration?

बीपीपी कोर्स की अवधि हर एक कॉलेज और संस्थान में अलग अलग हो सकती हैं। बीपीपी कोर्स की अवधि आमतौर पर 6 महीने से लेकर 1 साल तक हो सकती हैं। बीपीपी कोर्स सबके लिए नही है यह कोर्स खास करके उनके लिए है जो 10+2 की शिक्षा पूरी नहीं की और वह किसी बैचलर कोर्स में एडमिशन लेने चाहते हैं। ऐसे लोगो के लिए बीपीपी कोर्स एक परफेक्ट ऑप्शन है।

इसको भी पढ़े-   बैंक मैनेजर बनने के लिए कौन सा कोर्स करे? जानिए विस्तार से

बीपीपी कोर्स के लिए भारत के टॉप कॉलेज | Top Colleges For BPP Course?

भारत में बहुत से कॉलेज हैं जहाँ से आप बीपीपी कोर्स कर सकते हैं। यहाँ हम कुछ टॉप कॉलेजो को शेयर करने जा रहे हैं। इन कॉलेजो से आप बीपीपी कोर्स के लिए उच्च कोटि की पढ़ाई कर सकते हैं।

  • डीयू एल एस लॉ एंड बीपीपी कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली
  • एलएसएस आईपीयू लॉ स्कूल, गुजरात विद्यापीठ, अहमदाबाद
  • सीएनडीएल, राष्ट्रीय विद्यापीठ, बंगलूरु
  • एनएलयू लॉ स्कूल, नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, जोधपुर
  • एनएलयू लॉ स्कूल, नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी दिल्ली, नई दिल्ली
  • एनएलयू लॉ स्कूल, नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, हैदराबाद
  • नल्सार यूनिवर्सिटी ऑफ लॉ, हैदराबाद
  • एनएलयू लॉ स्कूल, नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी जोधपुर, जोधपुर
  • नीएमआईसी, न्यू इंग्लैंड इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ, गुवाहाटी
  • एलसी, नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी, बंगलूरु

बीपीपी कोर्स की फीस | BPP Course Fees

भारत में बीपीपी कोर्स की फीस हर एक कॉलेज और संस्थान में अलग अलग होती हैं। अगर बात करें भारत में बीपीपी कोर्स की एक औसतन फीस की तो वह ₹3,500 हजार रुपये तक हो सकता है।

बीपीपी कोर्स की फीस के बारे में विद्यार्थी अपने चयनित कॉलेज और संस्थानों के वेबसाइट पर जाकर एकदम सटीक जानकारी ले सकते हैं।

बीपीपी कोर्स के लिए योग्यता | Eligibility For BPP Course

बीपीपी कोर्स के लिए कोई खास योग्यता की जरूरत नही पड़ती है। बीपीपी कोर्स के लिए विद्यार्थी की उम्र 18 साल से ज़्यादा होना चाहिए। 18 साल से अधिकतम कोई भी व्यक्ति इसमे एडमिसन ले सकता है। बीपीपी कोर्स के लिए कोई भी एजुकेशन प्रमाणपत्र की जरूरत नही होती है।

बीपीपी कोर्स के बाद आगे अध्ययन के विकल्प?

बीपीपी कोर्स करने के बाद विद्यार्थियों के पास आगे के अध्ययन के लिए कई सारे विकल्प मौजूद होते हैं। यहाँ हम आपके साथ बीपीपी कोर्स के बाद आगे के अध्ययन के लिए कुछ महत्वपूर्ण विकल्प को शेयर करने जा रहे हैं।

1. उच्च शिक्षा प्राप्त करें: बीपीपी कोर्स करने के बाद आप आगे उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं। आप बी.ए., बी.कॉम, बी.एससी जैसी स्नातक डिग्री का विकल्प चुन सकते हैं। इनके अलावा आप एम.ए., एम.कॉम, एम.एससी जैसे पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स भी कर सकते हैं।

2. लॉ कोर्सेज: बीपीपी कोर्स करने के बाद आप LLB करके एक वकील बन सकते हैं। यह भी एक बढ़िया अध्ययन का विकल्प है, बीपीपी कोर्स के बाद।

3. सरकारी परीक्षाएँ: बहुत से विद्यार्थी ऐसे होते हैं जो बीपीपी कोर्स करने के बाद सरकारी नौकरी के लिए सरकारी एग्जाम की तैयारी करते हैं। बीपीपी कोर्स करने के बाद आप SSC, UPSC, Banking, और रेलवे जैसी विभाग की सरकारी एग्जाम की तैयारी करके अपने लिए एक बढ़िया सरकारी नौकरी ले सकते हैं।

पत्रकारिता एवं जनसंचार: बीपीपी कोर्स करने के बाद आप मीडिया अध्ययन और पत्रकारिता जैसे कोर्स को करके आप पत्रकार, संवाददाता, या मीडिया पेशेवर बन सकते हैं।

निष्कर्ष:

बीपीपी कोर्स के माध्यम से विद्यार्थियों के अंदर सामान्य ज्ञान, विचारशीलता, और व्यावसायिक कौशलों का विकास होता है। बीपीपी कोर्स विद्यार्थियों को विभिन्न क्षेत्रों में अध्ययन और नौकरी के लिए तैयार करता हैं।

इस पूरे लेख को पढ़ने के बाद आपको BPP Course Details in Hindi के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो गई होगी।

इसको भी पढ़े-   GNM Kya Hota Hai: योग्यता, फीस, सिलेबस, बेस्ट कॉलेज और सैलरी

यदि आपको यह पूरा लेख पसंद आया हो तो इसको अपने दोस्त के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें।

BPP Course Details in Hindi पर सामान्य प्रश्न?

बीपीपी कोर्स करने के फायदे क्या हैं?

बीपीपी कोर्स करने का सबसे बड़ा फायदा ये हैं कि आप बिना 10+2 की पढ़ाई किये बीपीपी के प्रमाणपत्र के माध्यम से कोई भी बैचलर कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

बीपीपी कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

बीपीपी कोर्स के लिए किसी खास योग्यता की जरूरत नही पड़ती हैं। केवल आवेदक भारत का नागरिक होने चाहिए और उसकी उम्र 18 साल से ज्यादा होना चाहिए।

बीपीपी कोर्स के बाद आगे के अध्ययन के विकल्प क्या हैं?

बीपीपी कोर्स के बाद आगे के अध्ययन के लिए आप उच्च शिक्षा, लॉ कोर्सेज, सरकारी परीक्षाएँ और पत्रकारिता एवं जनसंचार जैसी चीज़े कर सकते हैं।

बीपीपी कोर्स की फीस कितनी होती हैं?

हर एक कॉलेज और संस्थान की फीस अलग अलग होती हैं। बीपीपी कोर्स की एक औसतन फीस ₹3500 तक हो सकती हैं। यह एक अनुमानित फीस है। इसमे कम या ज्यादा होने का पूरा चांस है।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!