CA की तैयारी कैसे करें: जानिए पूरे विस्तार से?

भारत मे बहुत से ऐसे विद्यार्थी हैं जो एक CA बनना चाहते हैं लेकिन उनको इस बात की कोई जानकारी नही होती है कि आखिर CA की तैयारी कैसे करें! यदि आप यही जानना चाहते हैं कि CA की तैयारी कैसे करें तो आप सही जगह पर हैं।

इस पूरे आर्टिकल में हम आपको CA क्या होता है, CA की तैयारी कैसे करें, CA करने के लिए Qualification और CA में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं के बारे में पूरे विस्तार से और एकदम सरल भाषा मे बतायेगें।

CA (Chartered Accountant) क्या होता है | What is CA in Hindi

CA का फुल फॉर्म “Charted Accountant” होता है। CA एक उच्च कोटि का कोर्स होता है जिसको करके आप एक वित्तीय सलाहकार बन सकते हैं।

एक वित्तीय सलाहकार का मुख्य काम बड़े बड़े बिज़नेस और छोटे व्यापारियों के बिज़नेस एकाउंट, टैक्स और फाइनेंस से जुडी चीज़ों के बारे में सलाह देना होता है।

CA की पढ़ाई करने के बाद आप अकाउंटेंट, फाइनेंस मैनेजर, एकाउंटिंग मैनेजर, बिज़नेस एनालिस्ट और चार्टर्ड इंजीनियर जैसी उच्च कोटि की हाई सैलरी वाले जॉब पा सकते हैं।

कोई भी 12वीं पास विद्यार्थी CA प्रवेश परीक्षा को पास करके CA कोर्स में एडमिशन ले सकता है। भारत मे CA कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको Institute of Chartered Accountants of India (ICAI) में अप्लाई करना होगा।

ICAI एक प्रकार की एक संस्था है जिसके माध्यम से आप भारत मे CA की पढ़ाई कर सकते हैं।

CA की तैयारी कैसे करें | CA Ki Taiyari Kaise Karen

निम्नलिखित कदम का पालन करके आप Chartered Accountants (CA) की उच्च कोटि की तैयारी कर सकते हैं।

  • यदि आप भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास हैं तभी आप CA की तैयारी कर सकते हैं।
  • CA की तैयारी के लिए आपको सबसे पहले ICAI के द्वारा आयोजित कॉमन प्रोफिइंसाय टेस्ट पास करना होगा।
  • ICAI एक CA की तैयारी करवाने वाली संस्था है। CA की पढ़ाई में एडमिशन लेने के लिए आपको ICAI टेस्ट को पास करना होगा।
  • जब आप ICAI का CPT टेस्ट पास कर लेते हैं तो उसके बाद आपको एक CA फाउंडेशन कोर्स करना होगा।
  • CA फाउंडेशन कोर्स करने के अलावा आपको CA इंटरमीडिएट के लिए भी तैयारी शुरू करनी होगी।
  • जब आप एक बार CA इंटरमीडिएट पास कर लेते हैं तो उसके बाद आपको 3 साल की इंटर्नशिप करना होता है।
  • जब आप एक बार 3 साल की इंटर्नशिप को पूरा कर लेते है तो उसके बाद आपको ICAI से मेम्बरशिप मिल जाती है।
  • जब आपको ICAI से मेम्बरशिप मिल जाती है। तो उसके बाद आप CA फाइनल एग्जाम की तैयारी शुरू कर सकते हैं।
  • CA फाइनल एग्जाम की तैयारी के लिए आपको इसके पाठ्यक्रम को अच्छे से समझना होगा। यदि आप इसके सारी विषयों को समझकर तैयारी करते है तो आपकी तैयारी काफी बेहतर हो सकती है।
  • CA फाइनल एग्जाम की तैयारी के लिए आप पिछले साल CA एग्जाम में पूछे गए सवालों का अच्छे से विश्लेषण करके उसको हल करना चाहिए।
  • यदि आप CA एग्जाम की तैयारी सही स्टडी मटेरियल से करते हैं तो आपकी तैयारी आसान हो सकती है। आप स्टडी मटेरियल के लिए किताबें, नोट्स, और ऑनलाइन स्रोत का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • CA एग्जाम की तैयारी के लिए आपको हर रोज अच्छे से पढ़ाई करना बहुत जरूरी है।
  • रेगुलर पढ़ाई के साथ साथ आपको हर रोज एक मॉक टेस्ट देना चाहिय। यदि आप हर रोज मॉक टेस्ट देते हैं तो इससे आपके CA एग्जाम की तैयारी का पता चलता है।
  • CA का एग्जाम एक कठिन एग्जाम माना जाता है। इसलिए इसकी सही तरह से तैयारी के लिए आपको एक उच्च कोटि का कोचिंग क्लास जॉइन कर लेना चाहिए।
  • CA का एग्जाम पास करने के लिए प्रैक्टिस, कंसिस्टेंसी और हार्ड वर्क बहुत जरूरी है।
  • CA एग्जाम की तैयारी के लिए एक बढ़िया टाइम मैनेजमेंट बहुत जरूरी है। इसलिए आप अपनी पढ़ाई के लिए एक बढ़िया टाइम मैनेजमेंट प्लान बनाये और उसका पालन करें।
  • आपको हर रोज व्यायाम करना चाहिए इसके अलावा आपको स्वस्थ आहार भी लेना चाहिए। ऐसा करने से आपका मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहता है।
  • CA का एग्जाम कठिन हो सकता है लेकिन आपको अपने ऊपर पूरा भरोसा रखना होगा और आपको अपने आत्म-समर्पण को बनाए रखना बहुत जरूरी है।
इसको भी पढ़े-   आर्ट साइड से मेडिकल कोर्स: नए दौर का 7 बेस्ट मेडिकल कोर्स?

CA बनाने के लिए क्या क्या करना पड़ेगा?

यदि आप अभी 10वीं क्लास में है और आप आगे चलकर एक CA बनना चाहते है तो उसके लिए आपको सबसे पहले CPT की तैयारी करनी होगी। यदि आप CPT पास कर लेते हैं तो आपका एडमिशन ICAI में हो जाता है। एक बार अगर आपका एडमिशन ICAI में हो गया तो आप वहाँ से CA का एग्जाम पास करके एक Charted Accountant बन सकते हैं।

वही यदि आप अभी ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको ICAI में एडमिशन लेने के लिए IPCC की तैयारी करने होगा। IPCC पास करके आप ICAI में एडमिशन लेकर आप एक Charted Accountant बन सकते हैं।

CA करने के लिए योग्यता | CA Karne Ke Liye Qualification

CA (Chartered Accountant) बनने के लिए निम्नलिखित योग्यता की आवश्यकता होती है। तो चलिए शुरू करते हैं।

  • CA बनने के लिए आपका 12वीं में 50% से ज्यादा अंक होना चाहिय।
  • 12वीं पास करने के बाद आपको CPT देना होता है। CPT पास करना आवश्यक होता है ताकि आप IPC (Intermediate Integrated Professional Competence) की ओर बढ़ सकें।
  • CPT को पास करने के बाद, आपको IPC परीक्षा की तैयारी करनी होती है और इस परीक्षा को पास करना आवश्यक होता है।
  • IPC को पास करने के बाद, आपको 3 साल की CA की ट्रेनिंग करनी होती है जिसमें आपको किसी चार्टर्ड एकाउंटेंट के पास रहना होता है।
  • 3 साल की ट्रेनिंग के बाद, आपको CA फाइनल एग्जाम की तैयारी करनी होती है।
  • CA फाइनल परीक्षा को पास करने के बाद, आपको CA प्रमाण पत्र मिल जाता है। जिसके बाद आप एक चार्टर्ड एकाउंटेंट के रूप में काम कर सकते हैं।

CA में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

CA (Chartered Accountant) के सेलेबस में कई प्रकार के विषय होते हैं। इसके कुछ मुख्य विषयो को हम यहाँ बता रहे हैं।

  • अकाउंटिंग (Accounting)
  • वित्तीय प्रबंधन (Financial Management)
  • वित्तीय प्रक्रिया और नियंत्रण (Financial Process and Control)
  • कॉर्पोरेट लॉ (Corporate Law)
  • टैक्सेशन (Taxation)
  • सीएसटी (Cost and Management Accounting)
  • ऑडिटिंग (Auditing)
  • इकॉनॉमिक्स और बिजनेस एनवायरमेंट (Economics and Business Environment)
  • कॉम्प्यूटर एप्लीकेशन (Computer Applications)
  • इक्विटी और डेब्ट (Equity and Debt)

CA बनने के लिए 10वीं और 12वीं में कौन सा सब्जेक्ट लें?

यदि आप अभी 10वीं या फिर 12वीं क्लास में पढ़ाई कर रहे हैं और आप आगे चलकर एक CA बनना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि CA बनने के लिए 10वीं और 12वीं कॉमर्स स्ट्रीम से पढ़ाई करनी चाहिए। क्योंकि CA के एग्जाम के अधिकतम सवाल कॉमर्स विषय से आते हैं। इसलिए आपको CA बनने के लिए 10वीं और 12वीं कॉमर्स स्ट्रीम से पढ़ना चाहिए।

CA का एग्जाम कितनी बार दे सकते हैं?

CA (Chartered Accountant) के एग्जाम देने की कोई लिमिट नही हैं। आप CA (Chartered Accountant) का एग्जाम कितनी भी बार दे सकते हैं। यदि आप अच्छे CA की तैयारी करके इसके एग्जाम को देते हैं आप कुछ ही बार मे इसके एग्जाम को पास कर सकते हैं। क्योंकि CA की परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए मेहनत और समर्पण की आवश्यकता होती है।

इसको भी पढ़े-   BCA के बाद कौनसा कोर्स करें: 7 बेहतरीन और उच्च कोटि के कोर्स

CA की फीस कितनी होती है | What is The Fees Of CA?

CA की पढ़ाई को कई चरणों मे करनी होती है। इसकी पढ़ाई पूरा करने में 5 साल तक का समय लग सकता है। अगर बात करें CA फाउंडेशन, इंटरमीडिएट और फाइनल एग्जाम की कुल औसतन फ़ीस की तो वह ₹87,300 रुपये तक हो सकती है।

CA की 1 महीने की सैलरी कितनी होती है?

भारत मे एक चार्टर्ड एकाउंटेंट की औसतन शुरुआती सैलरी ₹67,000 प्रति महीना तक होती है। वही विदेशो में एक चार्टर्ड एकाउंटेंट की औसतन सैलरी ₹150000 से ₹600000 प्रति महीना तक हो सकता है।

इस पूरे लेख को पढ़ने के बाद आपको CA क्या होता है, CA Ki Taiyari Kaise Karen, CA करने के लिए Qualification और CA में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो गई होगी।

इस लेख को लेकर यदि आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। हम आपके सवाल या सुझाव का जबाब जल्द से जल्द देने की कोशिश करेगें।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!