NEET में कितने मार्क्स चाहिए गवर्नमेंट कॉलेज के लिए?

भारत मे बहुत से विद्यार्थी हैं जो नीट के माध्यम से सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेकर मेडिकल के फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं। लेकिन उनको इस चीज़ की जानकारी नही होती हैं कि सरकारी मेडिकल कॉलेज के लिए नीट एग्जाम में कितने मार्क चाहिए होता है।

यदि आप भी NEET Me Kitne Marks Chahiye Government College Ke Liye ये जानना चाहते हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आए हैं। यहाँ हम पूरे विस्तार से गवर्मेंट कॉलेज के लिए नीट में कितने नंबर चाहिए उसके बारे में बताएंगे। इस पूरे लेख को पढ़ने के बाद आपके इस सवाल का जबाब अच्छे से मिल जायेगा।

NEET Me Kitne Marks Chahiye Government College Ke Liye | नीट में कितने मार्क्स चाहिए गवर्नमेंट कॉलेज के लिए ?

हर साल जितने भी विद्यार्थी नीट का एग्जाम देते हैं उनका सपना होता है कि वह नीट के एग्जाम में अच्छे से अच्छे अंक लाये ताकि उनको आगे की मेडिकल की पढ़ाई के लिए एक बढ़िया गवर्नमेंट कॉलेज मिल सके।

बहुत से विद्यार्थी इस बात को लेकर कंफ्यूज रहते हैं कि आखिर नीट में कितने मार्क्स चाहिए गवर्नमेंट कॉलेज के लिए। यहाँ हम आपको विस्तार से बताने जा रहे हैं कि नीट में कितने नंबर आने पर आपको एक बढ़िया मेडिकल सरकारी कॉलेज मिलेगा। यहाँ हम आपको यह जानकारी हर कैटेगरी के हिसाब से देने जा रहे हैं।

1. जनरल कैटेगरी:

यदि आप जनरल कैटेगरी मतलब की सामान्य वर्ग से आते हैं तो आपको एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट के एग्जाम में 720 में से 620 से ज्यादा नंबर लाना होगा। यदि आपका नीट एग्जाम में 620 से ज़्यादा नंबर आता है तब आप सरकारी मेडिकल कॉलेज में MBBS जैसे और भी कोर्स के लिए योग्य हो जाते हैं।

2. अन्य पिछड़ी जाति (OBC):

यदि आप अन्य पिछड़ी जाति मतलब की OBC वर्ग से आते हैं तो आपको एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट के एग्जाम में 720 में से 580 से ज्यादा नंबर लाना होगा। यदि आपका नीट एग्जाम में 580 से ज़्यादा नंबर आता है तब आपको एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज मिल सकता है।

3. अनुसूचित जाति (SC):

यदि आप अनुसूचित जाति मतलब की SC वर्ग से आते हैं तो आपको एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट के एग्जाम में 720 में से 450 से ज्यादा नंबर लाना होगा। यदि आपका नीट एग्जाम में 450 से ज़्यादा नंबर आता है तब आपको एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज मिल सकता है।

इसको भी पढ़े-   BAMS के लिए NEET में कितने Marks चाहिए: जानिए विस्तार से?

4. अनुसूचित जनजाति (ST):

यदि आप अनुसूचित जनजाति मतलब की ST वर्ग से आते हैं तो आपको एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीट के एग्जाम में 720 में से 400 से ज्यादा नंबर लाना होगा। यदि आपका नीट एग्जाम में 400 से ज़्यादा नंबर आता है तब आपको एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज मिल सकता है।

क्या मुझे नीट में 400 अंकों के साथ सरकारी कॉलेज मिल सकता है?

यदि आप अनुसूचित जनजाति मतलब की ST वर्ग से आते हैं तो आपको नीट में 400 अंकों के आने के बाद सरकारी मेडिकल कॉलेज मिलने की थोड़ी बहुत संभावना हो सकती हैं।

जनरल कैटेगरी और अन्य पिछड़ी जाति वाले का नीट के एग्जाम में 400 अंक आने पर सरकारी मेडिकल कॉलेज मिलना काफी मुश्किल है। इसलिए उनको और मेहनत करके अधिक नंबर लाने की कोशिश करनी चाहिए।

एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को नीट के एग्जाम में 600 से ज्यादा अंक लाना होगा। इसलिए आपको अच्छे अंक लाने के लिए लगातार मेहनत करनी होगी।

क्या मुझे नीट में 580 अंकों के साथ एमबीबीएस मिल सकता है?

नीट का एग्जाम 720 नंबर का होता है। यदि आपके नीट के एग्जाम में 580 अंक आते हैं तो इस स्तिथी में आपको एमबीबीएस मिलना काफी मुश्किल हो सकता हैं।

नीट के माध्यम से एक बढ़िया सरकारी मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस करने के लिए आपको नीट एग्जाम में 610 से ज्यादा अंक लाना होगा। 610 से ज्यादा अंक आने पर ही आपका एडमिसन सरकारी मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस के लिए हो सकता है।

नीट एग्जाम में पासिंग मार्क्स कितने चाहिए?

यदि आप सामान्य वर्ग के विद्यार्थी हैं तो आपका नीट में पासिंग मार्क्स 600+ हो सकता है। वही यदि आप अन्य पिछड़ी जाति मतलब की OBC वर्ग से आते हैं तो आपके लिए नीट में पासिंग मार्क्स 580+ हो सकता है।

इसके साथ साथ यदि आप अनुसूचित जाति (SC) अथवा अनुसूचित जनजाति (ST) से आते तो नीट में आपके लिए पासिंग मार्क्स 400 से 450 अंक तक हो सकता है।

नीट में कितने मार्क्स चाहिए गवर्नमेंट कॉलेज के लिए के बारे में सामान्य प्रश्न?

NEET में कितने नंबर पर अच्छा कॉलेज मिलता?

यदि आपका NEET एग्जाम में 620 से ज्यादा अंक आता है तो आपको एक उच्च कोटि बढ़िया मेडिकल कॉलेज मिल सकता है। इसलिए नीट में 620 से ज्यादा अंक लाने के लिए खूब मेहनत करें।

भारत में एमबीबीएस की सरकारी फीस कितनी है?

प्राइवेट कॉलेज के मुकाबले सरकारी कॉलेज एमबीबीएस की फीस थोड़ी कम होती हैं। अगर बात करें एमबीबीएस की सरकारी कॉलेज की फीस की तो वह औसत 50 हजार प्रति साल तक हो सकती हैं।

नीट का पेपर हिंदी में होता है या इंग्लिश में?

नीट का पेपर कई सारी भाषायो में करवाया जाता है जैसे कि हिंदी, इंग्लिश, तेलगु, मराठी, गुजरती, तमिल, बंगाली, कन्नड़, ओडिशा और उर्दू उनमे से मुख्य हैं। आप अपने हिसाब से किसी भी एक भाषा का चुनाव कर सकते हैं।

क्या नीट परीक्षा में माइनस मार्किंग भी होता है?

हाँ! नीट परीक्षा में माइनस मार्किंग होता है। नीट पेपर के हर एक सही जबाब के 4 अंक मिलते हैं। वही यदि आपका कोई जबाब गलत हो जाता हैं। तो उसका आपको 1 माइनस नंबर मिलता हैं।

इसको भी पढ़े-   नीट करने के फायदे: नीट क्या है? नीट के बारे में सबकुछ जाने

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

1 thought on “NEET में कितने मार्क्स चाहिए गवर्नमेंट कॉलेज के लिए?”

Leave a Comment

error: Content is protected !!