बैंक मैनेजर बनने के लिए कौन सा कोर्स करे? जानिए विस्तार से

इस लेख की रूपरेखा:

आज के समय मे बहुत से ऐसे विद्यार्थी हैं जो सरकारी और प्राइवेट बैंकों में जॉब करना चाहते हैं। कुछ विद्यार्थी ऐसे भी होते हैं जो बैंक में बैंक मैनेजर के पद पर जॉब पाना चाहते हैं। यदि आप भी यह जानना चाहते हैं कि बैंक मैनेजर बनने के लिए कौन सा कोर्स करे करना चाहिए तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं।

आज हम इस आर्टिकल में आपको बैंक मैनेजर कौन होते हैं, बैंक मैनेजर बनने के लिए कौन सा कोर्स करे, बैंक मैनेजर का काम क्या होता है, बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यता और बैंक मैनेजर की सैलरी कितनी होती है के बारे में पूरे विस्तार से बतायेगें। तो चलिए शुरू करते हैं।

बैंक मैनेजर कौन होते हैं | Who are Bank Managers?

Bank Manager कौन होते हैं

किसी भी सरकारी और प्राइवेट बैंक का सबसे बड़ा पद बैंक मैनेजर का होता है। एक तरह से एक बैंक मैनेजर एक बैंक का सबसे बड़ा कर्मचारी होता है। एक बैंक में होने वाले हर एक कार्य की जिम्मेदारी बैंक मैनेजर की होती है। पूरे बैंक को एक बैंक मैनेजर ही मैनेज करता है।

बैंक में ग्राहक सेवा, बैंकिंग उत्पादों और सेवाओं की मार्केटिंग, शाखा के कर्मचारियों का प्रबंधन, वित्तीय प्रबंधन और नियमित रिपोर्टिंग बैंक मैनेजर की देख रेख में ही होती है।

एक तरह से कह सकते हैं कि एक बैंक मैनेजर पूरे बैंक का मालिक होता है। बैंक में होने वाली हर एक गतिविधियों के बारे में बैंक के हेड ब्रांच में बैंक मैनेजर ही रिपोर्ट देता है।

बैंक मैनेजर कितने प्रकार के होते हैं | Types of Bank Manager?

सरकारी और प्राइवेट बैंक में बैंक मैनेजर के प्रकार कई सारे होते हैं। इसके कुछ मुख्य प्रकार निम्नलिखित हैं।

  • ब्रांच मैनेजर
  • सेवा मैनेजर
  • वरिष्ठ बैंक मैनेजर
  • जूनियर बैंक मैनेजर
  • वित्तीय नियोजक मैनेजर
  • चार्टर्ड एकाउंटेंट मैनेजर
  • निवेश बैंकर
  • वित्तीय सलाहकार मैनेजर
  • धन मैनेजर
  • ऋण परामर्शदाता मैनेजर
  • सीनियर बैंक मैनेजर
  • क्षेत्रीय बैंक मैनेजर
  • कॉर्पोरेट बैंक मैनेजर
  • विदेशी बैंक मैनेजर
  • क्रेडिट मैनेजर
  • वित्तीय मैनेजर

बैंक मैनेजर का काम क्या होता है?

एक बैंक में बैंक मैनेजर के काम कई सारे होते हैं। एक बैंक मैनेजर बैंक में निम्नलिखित कार्य करता है।

  • एक बैंक मैनेजर बैंक में आये हुए ग्राहको को पूरी तरह से संतुष्ट करने के लिए जिम्मेदार होते हैं। बैंक मैनेजर ग्राहक को खाता खुलाने, पैसे निकालने और पैसे जमा करने जैसी सेवाओं की निगरानी करता है।
  • एक बैंक मैनेजर बैंक में आये हुए ग्राहकों के साथ संवाद करता है और उनके सवालों और समस्याओं का समाधान करता है।
  • एक बैंक मैनेजर ग्राहको के खाता खोलने, बंद करने, पैसा निकालने, पैसा जमा करना और खाताधारकों के साथ संबंधित विभिन्न सेवाओं का प्रबंधन करते हैं।
  • एक बैंक मैनेजर बैंक में पैसों के लेनदेन का प्रबंधन करता है और इसके अलावा बैंक के वित्तीय लेन-देन की निगरानी भी करता है।
  • एक बैंक मैनेजर बैंक के ऋणों और निवेशों के लिए ऋण और वित्तीय जोखिमों की निगरानी करता है। और इन सबका अच्छे से समीक्षा करता है।
  • एक बैंक मैनेजर बैंक में होने वाली हर एक गतिविधियों का समय समय पर बैंक की उच्च प्रशासनिक अधिकारियों और नियंत्रण निकायों को रिपोर्ट देता है।
  • एक बैंक मैनेजर पूरा दिन अपने बैंक के अन्य कर्मचारियों की निगरानी करते हैं और उनके काम को भी मॉनिटर करते हैं।
इसको भी पढ़े-   पोस्ट ग्रेजुएशन क्या होता है: सम्पूर्ण और विस्तृत जानकारी?

बैंक मैनेजर बनने के लिए 10वीं और 12वीं में कौन सा सब्जेक्ट लें?

आप 10वीं और 12वीं में किसी भी स्ट्रीम से पढ़ाई करके एक बैंक मैनेजर बन सकते हैं। बैंक मैनेजर बनने के लिए किसी विशेष सब्जेक्ट की जरूरत नही होती है। फिर भी यदि आप 10वीं और 12वीं कॉमर्क स्ट्रीम से पढ़ाई करते हैं तो यह आपके बैंक मैनेजर बनने में काफी मदद कर सकता है।

इसके साथ साथ आपको स्नातक बीकॉम से करना चाहिए। क्योंकि एक बैंक मैनेजर की जॉब में फाइनेंस से रिलेटेड काम करना होता है इसलिए आपको थोड़ा बहुत फाइनेंस की जानकारी होना बहुत जरूरी है।

Bank Manager Banne Ke Liye Konsa Course Kare | बैंक मैनेजर बनने के लिए कौनसा कोर्स करें?

Bank Manager Banne Ke Liye Konsa Course Kare

Bank Manager Banne Ke Liye Konsa Course Kare यदि आप यह जानना चाहते है तो आप सही जगह पर हैं। आप निम्नलिखित स्टेप को फॉलो करके एक बैंक मैनेजर बन सकते हैं।

  • बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास करना होगा।
  • 12वीं पास करने के बाद आपको स्नातक में एडमिशन लेना होगा। बैंक मैनेजर बनने के लिए आप किसी भी फील्ड से स्नातक की पढ़ाई कर सकते हैं।
  • भारत में हर साल IBPS Bank PO का फॉर्म निकालता रहता है। Bank PO के माध्यम से विद्यार्थियों को बैंक में अलग अलग पदों पर जॉब मिलता है।
  • स्नातक की पढ़ाई पूरा करने के बाद आपको Bank PO का फॉर्म भरना होगा।
  • यदि आप Bank PO का एग्जाम निकाल लेते हैं तो आपकी नौकरी Bank PO के पद पर लग जाती है।
  • Bank PO के पद पर आपको लागातार 2 साल तक काम करना होगा।
  • जब आप 2 साल तक Bank PO के पद पर काम करेगें तो उसके बाद आपको असिस्टेंट मैनेजर बनने के लिए एक टेस्ट देना होगा।
  • यदि आप टेस्ट में पास हो जाते है तब आपका प्रमोशन असिस्टेंट मैनेजर के पद के लिए हो जायेगा।
  • असिस्टेंट मैनेजर के पद पर आपको 5 साल तक काम करना होगा। 5 साल काम करने के बाद आपका बैंक के द्वारा आयोजित एक और टेस्ट देना होगा।
  • यदि आप इस बार का भी टेस्ट पास कर लेते हैं तो इस बार के प्रमोशन में आप एक ब्रांच मैनेजर बन जायेगें।
  • इस तरह से आप एक बैंक मैनेजर की जॉब पा सकते हैं।

बैंक मैनेजर के लिए कौन सा कंप्यूटर कोर्स करें?

बैंक मैनेजर के लिए किसी खास कंप्यूटर कोर्स की जरूरत नही होती है। उम्मीदवार को कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होनी चाहिए। जैसे टैली कैसे उपयोग करना चाहिए और एकाउंटिंग के बारे में बेसिक जानकारी आना चाहिए।

जब आपकी जॉब बैंक के किस भी पद पर लगती हैं तो आपको शुरुआती दिनों के बैंक के काम करने के बारे में एक ट्रेनिंग करवाई जाती है। जिसमे आपको कंप्यूटर के बारे में ज्ञान दिया जाता है कि काम के समय कंप्यूटर का उपयोग कैसे करना चाहिए।

बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए।

बैंक मैनेजर बनने के लिए निम्नलिखित योग्यता की जरूरत पड़ती है।

  • उम्मीदवार के पास एक स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।
  • बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार के पास बैंक या वित्तीय सेवा फील्ड में काम करने का अनुभव होना चाहिए।
  • उम्मीदवार को कंप्यूटर और डिजिटल सेवाओं के बारे में बेसिक जानकारी होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार के पास अच्छी कम्युनिकेशन स्किल होनी चाहिए ताकि वह ग्राहको और कर्मचारियों के साथ अच्छे से संवाद कर सके।
  • बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार के अंदर बढ़िया नेतृत्व कौशल होनी चाहिए।
  • बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार के अंदर वित्तीय और बैंकिंग ज्ञान होना चाहिए।
  • ज्यादातर बैंक में बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार को बैंकिंग परीक्षा उत्तीर्ण करना होता है। इस बैंकिंग एग्जाम में वित्तीय ज्ञान, ग्राहक सेवा कौशल, और नेतृत्व कौशल के बारे में पूछा जाता है।
इसको भी पढ़े-   सऊदी अरब जाने के लिए कितना पैसा लगता है: जानिए विस्तार से

12वीं के बाद बैंक मैनेजर कैसे बने | 12th Ke Baad Bank Manager Kaise Bane

आप 12वीं के बाद डायरेक्ट बैंक मैनेजर नही बन सकते हैं। 12वीं के बाद आपको स्नातक में एडमिशन लेने होगा। आप स्नातक कॉमर्स से कर सकते हैं।

स्नातक की पढ़ाई पूरा करने के बाद आपको Bank PO का एग्जाम देना होगा। क्योंकि आप डायरेक्ट बैंक मैनेजर नही बन सकते हैं। Bank PO का एग्जाम पास करने के बाद आपकी जॉब Bank PO के रूप में बैंक में लग जायेगी।

कुछ साल Bank PO की जॉब करने के बाद आप बैंक के द्वारा आयोजित टेस्ट को पास करके असिस्टेंट मैनेजर के पद पर जा सकते हैं।

असिस्टेंट मैनेजर के पद पर कुछ साल काम करने के बाद आप फिर बैंक के द्वारा आयोजित टेस्ट को पास करके एक बैंक मैनेजर बन सकते हैं।

सरकारी बैंक मैनेजर कैसे बने | Government Bank Manager Kaise Bane

सरकारी बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको बैंक के द्वारा आयोजित परीक्षा पास करना होगा। भारत मे सरकारी बैंक के पदों के लिए भर्ती IBPS (Institute Of Banking Personnel Selection) द्वारा करवाया जाता है।

यदि आप IBPS PO का एग्जाम पास कर लेते हैं तो आपकी जॉब सरकारी बैंक में PO के पद के लिए लग जाती है।

कुछ साल PO के पद पर काम करने के बाद आपका प्रमोशन असिस्टेंट बैंक मैनेजर के पद पर हो जाता है। असिस्टेंट बैंक मैनेजर के पद पर कुछ साल काम करने के बाद आपका प्रमोशन सरकारी बैंक मैनेजर के पद पर हो जाता है।

प्राइवेट बैंक मैनेजर कैसे बने | Private Bank Manager Kaise Bane?

प्राइवेट बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया भी ठीक वैसी है जैसा कि सरकारी बैंक मैनेजर बनने की है। इसमे भी आपको PO (Probationary Officer) का एग्जाम पास करके एक PO के रूम में काम करना होगा।

कुछ समय PO के रूप में काम करके के बाद आपका प्रमोशन असिस्टेंट बैंक मैनेजर के लिए हो जाता है। असिस्टेंट बैंक मैनेजर के बाद आपका प्रमोशन प्राइवेट बैंक मैनेजर के लिए हो जाता है।

एसबीआई बैंक मैनेजर कैसे बनें | SBI Bank Manager Kaise Bane?

निम्नलिखित चरणों का पालन करके आप एसबीआई में बैंक मैनेजर बन सकते हैं।

  • समय समय पर SBI PO के पद पर भर्ती निकालती रहती है। कोई भी 12वीं पास विद्यार्थी उसमे आवेदन कर सकता है।
  • SBI PO के पद पर आवेदन करने के बाद आपको इसके एग्जाम को पास करना होगा।
  • SBI PO का एग्जाम तीन चरणों में होता है Prelims, Mains और Group Discussion
  • जब आप एक बार SBI PO के Prelims और Mains एग्जाम को पास कर लेगें तो उसके बाद SBI वाले आपको Group Discussion के लिए बुलाएंगे।
  • Group Discussion को पास करने के बाद अंतिम चरण में आपका इंटरव्यू होगा।
  • इंटरव्यू पास करने के बाद आपकी जॉब SBI PO में लग जाती है। SBI PO के पद पर 2 साल काम करने के बाद आपका प्रोमोशन असिस्टेंट मैनेजर के पद पर हो जाता है।
  • असिस्टेंट मैनेजर के पद पर 3 से 5 साल काम करने के बाद SBI आपको SBI Bank Manager के पद पर प्रमोट कर देती है।

SBI Bank Manager की सैलरी कितनी होती है?

भारत में SBI Bank Manager औसतन शुरुआती सैलरी ₹67500- ₹150000 प्रति महीना तक हो सकती है। समय के साथ साथ यह सैलरी और अधिक होती जाती है। इस तरह से कह सकते हैं कि एक SBI Bank Manager को सैलरी काफी उच्च कोटि की होती है।

इसको भी पढ़े-   CMLT Course Details: सीएमएलटी क्या होता है? पूरी जानकारी?

बैंक मैनेजर की सैलरी कितनी होती है | Bank Manager Ki Salary

Glassdoor.co.in के अनुसार भारत मे एक सरकारी बैंक मैनेजर की औसतन शुरुआती सैलरी ₹60000- ₹180000 प्रति महीना तक हो सकती है। वही एक प्राइवेट बैंक मैनेजर की औसतन सैलरी ₹81000- ₹90000 प्रति महीना तक हो सकती है।

निष्कर्ष:

इस पूरे आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको बैंक मैनेजर कौन होते हैं, Bank Manager Banne Ke Liye Konsa Course Kare, बैंक मैनेजर का काम क्या होता है, बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यता और बैंक मैनेजर की सैलरी कितनी होती है के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो गई होगी।

यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करके हमारा उत्साह जरूर बढ़ाये।

बैंक मैनेजर बनने के लिए कौन सा कोर्स करे के बारे में सामान्य प्रश्न?

बैंक मैनेजर के लिए कितनी पढ़ाई करनी पड़ती है?

बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको स्नातक तक कि पढ़ाई करनी होगी। क्योंकि बैंक का एग्जाम देने के लिए विद्यार्थी का स्नातक पास होना जरूरी है।

क्या आर्ट्स का छात्र बैंक मैनेजर बन सकता है?

हां, आर्ट्स का छात्र बैंक मैनेजर बन सकता है। कोई भी 12वीं और स्नातक पास विद्यार्थी Bank PO का एग्जाम देकर प्रमोशन के माध्यम से बैंक मैनेजर बन सकता है।

क्या मैं बिना मैथ्स के बैंक मैनेजर बन सकता हूं?

हाँ, आप बिना मैथ्स के भी बैंक मैनेजर बन सकते हैं।बैंक मैनेजर बनने के लिए किसी खास विषय की जरूरत नही होती है।

सबसे अच्छी सैलरी कौन सा बैंक देता है?

भारत मे सबसे अच्छी सैलरी भारतीय स्टेट बैंक देती है। भारत मे अन्य बैंकों के मुकाबले भारतीय स्टेट बैंक के कर्मचारियों की सैलरी सबसे बढ़िया होती है।

बैंक मैनेजर के लिए कितनी उम्र होनी चाहिए?

बैंक मैनेजर बनाने के लिए विद्यार्थी की उम्र 21 से 30 साल के बीच मे होनी चाहिए। बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको बेसिक कंप्यूटर की भी जानकारी होनी चाहिए।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!