DMLT Course Details: डीएमएलटी क्या होता है? सम्पूर्ण जानकारी

इस लेख की रूपरेखा:

DMLT Course Details in Hindi-

कोर्स स्तरडिप्लोमा
DMLT का पूरा नामडिप्लोमा इन लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी
डीएमएलटी कोर्स की अवधि2 साल
एडमिशन के लिए योग्यता12वीं साइंस स्ट्रीम से पास
डीएमएलटी कोर्स की फीस₹30000- ₹150000
जॉब प्रोफाइलमेडिकल लैब तकनीशियन, रिसर्च तकनीशियन , लेबोरेटरी एनालिस्ट , पैथोलॉजी सहायक, क्लिनिकल टेक्नीशियन, लेबोरेट्री मैनेजर,
फार्मास्युटिकल टेक्नीशियन
औसतन सैलरी₹15000- ₹45000

यदि आप मेडिकल के फील्ड में अपना एक बेहतरीन कैरियर बनाना चाहते हैं तो आज हम आपको एक ऐसे कोर्स को बताने जा रहे हैं जिसको करके आप मेडिकल के फील्ड अपना एक उच्च कोटि का करियर बना सकते हैं। इस बेहतरीन कोर्स का नाम DMLT है।

DMLT Course Details in Hindi के इस लेख में हम आपको DMLT क्या होता है, DMLT का फुल फॉर्म, डीएमएलटी कोर्स के लिए योग्यता, DMLT Course Syllabus, DMLT Course की फीस और DMLT Course करने के बाद कौन कौन सी नौकरी मिलती है जैसी और भी कई महत्वपूर्ण चीज़ों के बारे में विस्तार से बतायेगें। तो चलिये शुरू करते हैं।

डीएमएलटी क्या होता है | DMLT Kya Hota Hai?

DMLT Kya Hota Hai

DMLT का मतलब Diploma in Medical Laboratory Technology होता है। डीएमएलटी एक डिप्लोमा कोर्स है। DMLT कोर्स आमतौर पर 2 साल का होता है। कोई भी 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास विद्यार्थी डीएमएलटी कोर्स कर सकता है।

डीएमएलटी कोर्स में विद्यार्थियों को मेडिकल लैब में उपयोग होने वाली मशीनों का प्रयोग करना, अलग अलग बीमारी में कौन सी जांच की जाती है और उपकरणों की सही देखभाल करना के बारे में सिखाया जाता है।

डीएमएलटी के 2 साल के कोर्स में विद्यार्थियों को माइक्रोबायोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, संक्रमण रोग, रक्त विज्ञान, इम्यूनोहिस्टोकेमिस्ट्री, सिटोपैथोलॉजी, इम्यूनोलॉजी, ब्लड बैंकिंग, रेडियोलॉजी के बारे में भी पढ़ाया जाता है।

डीएमएलटी कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद विद्यार्थी विभिन्न सरकारी और निजी अस्पतालों, क्लीनिकों और अनुसंधान प्रयोगशालाओं में मेडिकल लेबोरेटरी तकनीशियन, क्लिनिकल टेक्नीशियन, लेबोरेट्री मैनेजर, सुपरवाइजर, क्लिनिकल टेक्नीशियन और फार्मास्युटिकल टेक्नीशियन जैसी उच्च कोटि की हाई सैलरी वाली नौकरी पा सकती हैं।

डीएमएलटी का फुल फॉर्म क्या होता है | DMLT Full Form in Hindi

DMLT का फुल फॉर्म “Diploma in Medical Laboratory Technology” होता है। डीएमएलटी एक 2 साल का डिप्लोमा कोर्स होता है जिसको करने के बाद आप सरकारी या प्राइवेट हॉस्पिटल में लैब असिस्टेंट या लैब टेक्नीशियन की उच्च कोटि की हाई सैलरी वाली नौकरी पा सकते हैं।

इसको भी पढ़े-   ITI Electrician Course Details in Hindi: सब कुछ जानें?

डीएमएलटी कोर्स क्यों करना चाहिए?

DMLT Course क्यों करना चाहिए

डीएमएलटी कोर्स करने के कई कारण है। इसके कुछ महत्वपूर्ण कारण निम्नलिखित है।

  • डीएमएलटी कोर्स पूरा करने के बाद विद्यार्थी के पास विभिन्न सरकारी और निजी अस्पतालों, क्लीनिकों और अनुसंधान प्रयोगशालाओं में मेडिकल लेबोरेटरी तकनीशियन के रूप में उच्च कोटि की नौकरी पाने की संभावना होती है।
  • डीएमएलटी कोर्स पूरा करने के बाद विद्यार्थी को जो नौकरी मिलती है उसका वेतन काफी अच्छा होता है। समय के साथ साथ अनुभव होने पर उनका वेतन और अधिक होता जाता है।
  • डीएमएलटी कोर्स करने वाले विद्यार्थियों का डिमांड इस समय बहुत ज्यादा हो गया है। मेडिकल के फील्ड में लेबोरेटरी तकनीशियन जैसे लोगो की मांग हमेशा बहुत ज्यादा होती है।
  • डीएमएलटी कोर्स की अवधि केवल 2 साल ही है। आप इतने कम समय मे एक डिप्लोमा कोर्स करके अपना एक उच्च कोटि का करियर बना सकते हैं।
  • डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आपको जो नौकरी मिलती है वह एक रोचक नौकरी होती है। इस तरह की नौकरी करने में लोगो को काफी मज़ा आता है।

डीएमएलटी कोर्स के लिए योग्यता | DMLT Course Eligibility

DMLT Course Eligibility

डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को कुछ योग्यता की जरूरत होती है। डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए जरूरी योग्यता निम्नलिखित है।

  • विद्यार्थी किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास होना चाहिए।
  • विद्यार्थी का 12वीं क्लास में बायोलॉजी विषय का भी होना अनिवार्य है।
  • विद्यार्थी का 12वीं क्लास में 50% से ज्यादा अंक होना चाहिए।
  • विद्यार्थी की उम्र 17 साल से ज्यादा होना चाहिए।
  • विद्यार्थी भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • विद्यार्थी शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए।
  • कुछ कॉलेजो में डायरेक्ट डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन हो जाता है वही कुछ कॉलेजो में प्रवेश परीक्षा देना पड़ता है।

डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए क्या क्या डाक्यूमेंट्स चाहिए।

डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए निम्नलिखित डाक्यूमेंट्स की जरूरत पड़ती है।

  • कक्षा 10वीं का प्रमाणपत्र और मार्कशीट
  • कक्षा 12वीं का प्रमाणपत्र और मार्कशीट
  • आवेदन फॉर्म
  • एडमिशन शुल्क
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट आकार का फोटो
  • जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)
  • निवास प्रमाण पत्र
  • चरित्र प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)
  • चिकित्सा प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)

डीएमएलटी कोर्स का सेलेबस | DMLT Course Syllabus in Hindi

DMLT Course Syllabus in Hindi

डीएमएलटी कोर्स की अवधि 2 साल की होती है। इन 2 सालो को 6-6 महीने के 4 समेस्टर में बाँटा गया है। हर एक सेमेस्टर में क्या क्या पढ़ाया जाता है, उसके बारे में आपको बतानें जा रहे हैं। इसको पढ़ने के बाद आपको DMLT Course Syllabus in Hindi के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो जायेगी।

सेमेस्टर 1

  • मानव शरीर रचना विज्ञान
  • बुनियादी मानव विज्ञान
  • एमएलटी की बुनियादी बातों
  • क्लिनिकल बायोकैमिस्ट्री की मूल बातें
  • अंग्रेजी संचार
  • व्यावसायिक गतिविधियाँ

सेमेस्टर 2

  • मानव पैथोलॉजी
  • बुनियादी पैथोलॉजी
  • माइक्रोबियल इंस्ट्रूमेंटेशन
  • मौलिक जैव रसायन
  • सूचना और संचार प्रौद्योगिकी
  • सामुदायिक विकास

सेमेस्टर 3

  • मानव मनोविज्ञान
  • मेटाबोलिक और तकनीकी जैव रसायन
  • क्लिनिकल हेमटोलॉजी
  • सामुदायिक विकास गतिविधियाँ
  • तकनीकी सूक्ष्म जीव विज्ञान

सेमेस्टर 4

  • हिस्टोपैथोलॉजिकल तकनीक
  • क्लिनिकल माइक्रोबायोलॉजी
  • नैदानिक ​​जैव रसायन
  • क्लीनिकल पैथोलॉजी
  • पैथोलॉजी लैब

डीएमएलटी कोर्स में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

डीएमएलटी कोर्स में कई सारे सब्जेक्ट होते हैं। इसके कुछ महत्वपूर्ण सब्जेक्ट निम्नलिखित हैं।

  • बेसिक ऑफ क्लीनिकल बायो केमिस्ट्री
  • इनफॉर्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी
  • मेटाबोलिक एंड टेक्निकल बायो केमिस्ट्री
  • ह्यूमन एनाटोमी
  • बेसिक पैथोलॉजी
  • माइक्रोबियल इंस्ट्रूमेंटेशन
  • फंडामेंटल बायो केमिस्ट्री
  • बेसिक ह्यूमन साइंस
  • फंडामेंटल्स ऑफ़ एमएलटी
  • इंग्लिश कम्युनिकेशन
  • प्रोफेशनल एक्टिविटीज
  • ह्यूमन पैथोलॉजी
  • क्लिनिकल हैमेटोलॉजी
  • कम्युनिटी डेवलपमेंट एक्टिविटीज
  • टेक्निकल माइक्रोबायोलॉजी
  • हिस्टोपैथोलॉजिकल टेक्नीक्स
  • क्लिनिकल माइक्रोबायोलॉजी
  • क्लिनिकल बायो केमिस्ट्री
  • कम्युनिटी डेवलपमेंट
  • ह्यूमन फिजियोलॉजी
  • क्लिनिकल पैथोलॉजी
  • पैथोलॉजी लैब

डीएमएलटी कोर्स कितने समय का होता है?

डीएमएलटी कोर्स की अवधि आमतौर पर 2 साल की होती है। 2 साल की पढ़ाई पूरा करने के बाद 6 महीने का इंटर्नशिप भी करना पड़ता है। इस तरह से कह सकते हैं। कि डीएमएलटी कोर्स की अवधि कुल मिलाकर 2 साल और 6 महीने तक की होती है।

इसको भी पढ़े-   ADCA Course Details: ADCA कोर्स क्या होता है? पूरी जानकारी?

डीएमएलटी कोर्स करने के मुख्य फायदे | DMLT Course Karne Ke Fayde

डीएमएलटी कोर्स करने के फायदे कई सारे हैं। इसके कुछ महत्वपूर्ण फायदे निम्नलिखित हैं।

  • डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आपको सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटल, प्राइवेट लेबोरेटरी और फार्मास्यूटिकल कंपनियां जैसी जगहों पर आसानी से जॉब मिल सकती है।
  • डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आपको गवर्नमेंट हॉस्पिटल और अन्य मेडिकल के फील्ड में उच्च कोटि की हाई सैलरी वाली सरकारी नौकरी मिल सकती है।
  • डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आप विदेशो में भी जाकर अपना एक उच्च कोटि का कैरियर बना सकते हैं क्योंकि डीएमएलटी कोर्स करने वाले विद्यार्थियों का डिमांड भारत के साथ साथ अन्य देशों में भी बहुत ज्यादा है।
  • डीएमएलटी कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद आपको जो जॉब मिलता है उसकी सैलरी काफी अच्छी होती है। समय के साथ साथ अनुभव होने पर सैलरी और अधिक होती जाती है।
  • मेडिकल के फील्ड में डीएमएलटी कोर्स करने वाले लोगो की मांग बहुत ज्यादा है। क्योंकि मेडिकल के फील्ड में मेडिकल लेबोरेटरी तकनीशियन की हमेशा आवश्यकता होती है।
  • डीएमएलटी कोर्स मात्र 2 साल का है। आप इतने कम समय में इस उच्च कोटि का कोर्स करके अपना एक बेहतरीन कैरियर बना सकते हैं।
  • मेडिकल एक ऐसा फील्ड है जिसका डिमांड समय के साथ साथ बढ़ता ही जायेगा इसलिए डीएमएलटी कोर्स के माध्यम से आप इसमे एक सुरक्षित और स्थिर करियर बना सकते हैं।

डीएमएलटी कोर्स के लिए बेस्ट कॉलेज?

भारत मे डीएमएलटी कोर्स के लिए कई सारे कॉलेज मौजूद हैं। कुछ महत्वपूर्ण कॉलेजो के नाम निम्नलिखित हैं।

  • बांकुड़ा सम्मिलनी मेडिकल कॉलेज, बांकुड़ा, पश्चिम बंगाल
  • सरदार पटेल विश्वविद्यालय, गुजरात
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली
  • सरकारी मेडिकल कॉलेज, अमृतसर, पंजाब
  • पीईएस इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च, कुप्पम, आंध्र प्रदेश
  • महाराष्ट्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, पुणे, महाराष्ट्र
  • राजीव गांधी कॉलेज, भोपाल, मध्य प्रदेश
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल टेक्नोलॉजी, कोलकाता
  • सरदार पटेल विश्वविद्यालय, वल्लभ विद्यानगर, गुजरात
  • जैविक मेडिकल कॉलेज, पटना, बिहार
  • श्री गुरु गोविंद सिंह कॉलेज ऑफ फार्मेसी, चंडीगढ़
  • तमिलनाडु मेडिकल एंड पब्लिक हेल्थ यूनिवर्सिटी, चेन्नई
  • जवाहर लाल मेडिकल कॉलेज, भागलपुर, बिहार
  • हिंदुस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, चेन्नई
  • माधवा विश्वविद्यालय, सिरोही, राजस्थान
  • त्रिपुरा इंस्टीट्यूट ऑफ पैरामेडिकल साइंसेज, अगरतला
  • तीर्थंकर महावीर विश्वविद्यालय, मुरादाबाद, उत्तर प्रदेश
  • मेवाड़ विश्वविद्यालय, चित्तौड़गढ़, राजस्थान

डीएमएलटी कोर्स की फीस कितनी होती है | DMLT Course Fees

सरकारी कॉलेजो में डीएमएलटी कोर्स की औसतन फीस ₹30000- ₹60000 प्रति साल तक हो सकती है। वही प्राइवेट कॉलेजो में डीएमएलटी कोर्स की औसतन फीस ₹60000- ₹150000 प्रति साल तक हो सकता है।डीएमएलटी कोर्स की फीस के बारे में आपको सटीक जानकारी आप जिस कॉलेज में एडमिशन लेने जा रहे हैं उसके ऑफिसियल वेबसाइट पर मिल सकती है।

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद किन जिन जगहों पर जॉब मिल सकता है।

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आपको कई सारी जगहों पर जॉब मिल सकता है। कुछ महत्वपूर्ण जगहों के नाम निम्नलिखित हैं।

  • सरकारी हॉस्पिटल
  • प्राइवेट हॉस्पिटल
  • आर्मी मेडिकल हॉस्पिटल
  • पैथोलॉजी लैबोरेट्री
  • प्राइवेट क्लीनिक
  • प्राइवेट लेबोरेटरी
  • रक्तदान केंद्र
  • स्वास्थ्य केंद्र
  • शिक्षण संस्थान
  • डायग्नोस्टिक सेंटर
  • रिसर्च प्रयोगशाला
  • फार्मास्यूटिकल कंपनियां
  • स्वास्थ्य देखभाल उपकरण कंपनियां
  • विश्वविद्यालयों और कॉलेजों
  • ब्लड बैंक और ब्लड कैम्प

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद नौकरी?

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आपको कई तरह की नौकरियां मिल सकती हैं। कुछ महत्वपूर्ण नौकरियां निम्नलिखित हैं।

  • मेडिकल लैब तकनीशियन
  • रिसर्च तकनीशियन
  • रिसर्च अस्सिटेंट
  • मेडिकल टेक्नोलॉजिस्ट
  • लेबोरेटरी एनालिस्ट
  • टेक्नोलॉजिस्ट
  • प्रयोगशाला पर्यवेक्षक
  • लैब सुपरवाइजर
  • लैब टेक्नोलॉजी एनालिसिस
  • लैब मेनेजर
  • लैब एनालिस्ट
  • प्रयोगशाला सहायक
  • पैथोलॉजी सहायक
  • प्रयोगशाला सूचना प्रौद्योगिकी सहायक
  • स्वास्थ्य सेवा प्रशासक
  • एजुकेशनल असिस्टेंट कंसलटेंट
  • सलाहकार एवं सहायक पर्यवेक्षक
  • प्रयोगशाला असिस्टेंट मैनेजर
  • अस्पताल आउटरीच सहायक
  • प्रयोगशाला सूचना प्रणाली विश्लेषक
  • हेल्थ केअर अधिकारी
  • लैब टेक्नोलॉजिस्
इसको भी पढ़े-   LLM Course Details in Hindi: LLM क्या होता है? पूरी जानकारी

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है।

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद यदि आपका नौकरी सरकारी फील्ड में लगता है तो आपको औसतन शुरुआती सैलरी ₹25000- ₹30000 प्रति महीने तक मिल सकता है। वही यदि आपकी नौकरी प्राइवेट फील्ड में लगता है तो आपको शुरुआती सैलरी ₹15000- ₹18000 प्रति महीना तक मिल सकता है। जॉब में अनुभव होने पर यह सैलरी और अधिक होती जायेगी।

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद क्या करें?

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद विद्यार्थियों के पास कई सारे विकल्प होते हैं। कुछ महत्वपूर्ण विकल्प निम्नलिखित हैं।

नौकरी: डीएमएलटी कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद आप अस्पताल, क्लीनिक, डायग्नोस्टिक सेंटर, अनुसंधान प्रयोगशाला और फार्मास्यूटिकल कंपनियां में उच्च कोटि की नौकरी कर सकते हैं।

उच्च शिक्षा: डीएमएलटी कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद आप BMLT (Bachelor of Medical Laboratory Technology), MLT ( Medical Laboratory Technologist (MLT) Certification ) और MSc (Medical Laboratory Technology) जैसी उच्च कोटि की उच्च शिक्षा ले सकते हैं।

खुद का व्यवसाय: डीएमएलटी कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद आप अपना खुद का मेडिकल लैब खोलकर खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आगे कौनसी पढ़ाई कर सकते हैं?

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आगे उच्च शिक्षा के लिए कई सारे विकल्प मौजूद हैं। कुछ महत्वपूर्ण विकल्प निम्नलिखित हैं।

  • BMLT ( Bachelor of Medical Laboratory Technology )
  • MSc MLT ( Master of Science in Medical Laboratory Technology )
  • MLT ( Medical Laboratory Technologist Certification )
  • CLS ( Clinical Laboratory Scientist Certification )
  • PhD in Medical Laboratory Science
  • Medical Technology Diploma
  • Medical Technology Associate Degree
  • Medical Technology Certificate

क्या डीएमएलटी एक अच्छा कोर्स है?

हाँ, डीएमएलटी एक उच्च कोटि का अच्छा कोर्स है। डीएमएलटी कोर्स मेडिकल लेबोरेटरी साइंस के बारे में विद्यार्थियों को उच्च कोटि का ज्ञान और कौशल प्रदान करता है। डीएमएलटी कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद विद्यार्थियों को अस्पताल, क्लीनिक, डायग्नोस्टिक सेंटर, अनुसंधान प्रयोगशाला और फार्मास्यूटिकल कंपनियो में उच्च कोटि की जॉब मिलता है।

निष्कर्ष?

यदि आप मेडिकल लेबोरेटरी साइंस के फील्ड में अपना एक बढ़िया करियर बनाना चाहते हैं तो डीएमएलटी कोर्स आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आपके पास विभिन्न प्रकार के करियर बनाने के अवसर मौजूद होते हैं।

DMLT Course Details in Hindi के इस लेख को पढ़ने के बाद आपको DMLT क्या होता है, DMLT का फुल फॉर्म, डीएमएलटी कोर्स के लिए योग्यता, DMLT Course Syllabus, डीएमएलटी कोर्स की फीस और डीएमएलटी कोर्स करने के बाद कौन कौन सी नौकरी मिलती है जैसी और भी कई महत्वपूर्ण चीज़ों के बारे में काफी उच्च कोटि की जानकारी हो गई होगी।

यदि आपको यह लेख उपयोगी लगा हो तो इस लेख को अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूलें।

DMLT Course Details in Hindi के बारे में सामान्य प्रश्न?

DMLT का पूरा नाम क्या है?

DMLT का पूरा नाम Diploma in Medical Laboratory Technology होता है। जिसको हम आम भाषा मे मेडिकल प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा कहते हैं।

डीएमएलटी के बाद कौन सा कोर्स करें?

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आप BMLT, MSc MLT, MLT और CLS जैसे कोर्स कर सकते हैं।

डीएमएलटी की प्रवेश परीक्षा किस भाषा में आयोजित की जाती है?

डीएमएलटी की प्रवेश परीक्षा आमतौर पर हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में आयोजित की जाती है।

इंडिया में डीएमएलटी कोर्स करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है।

डीएमएलटी कोर्स करने के बाद यदि आपका जॉब सरकारी विभाग में लगता है तो औसतन सैलरी ₹25000- ₹30000 प्रति महीने तक मिल सकता है। वही यदि आपकी नौकरी प्राइवेट विभाग में लगता है तो औसतन सैलरी ₹15000- ₹18000 प्रति महीना तक मिल सकता है।

क्या हम 12वीं आर्ट्स के बाद डीएमएलटी कोर्स कर सकते है?

नहीं, आप 12वीं आर्ट्स के बाद डीएमएलटी कोर्स नही कर सकते हैं। डीएमएलटी कोर्स करने के लिए आपको 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास होना होगा।

क्या DMLT कोर्स के लिए NEET आवश्यक है?

नहीं, DMLT कोर्स के लिए NEET की जरूरत नहीं है।

क्या डीएमएलटी कोर्स करके खुदकी पैथोलॉजी लैब शुरू कर सकते है?

हाँ, डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आप अपनी खुद का पैथोलॉजी लैब शुरू कर सकते हैं।

क्या कॉमर्स स्टूडेंट्स डीएमएलटी कोर्स कर सकते है?

यदि आप 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास हैं तो आप डीएमएलटी कोर्स कर सकते है?

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!