DMLT Syllabus in Hindi: डीएमएलटी कोर्स क्या है? पूरी जानकारी

इस लेख की रूपरेखा:

आज के समय मे हर एक विद्यार्थी एक अच्छा कोर्स करके अपना करियर बनाना चाहता है। यदि आप भी Dmlt कोर्स के माध्यम से अपना करियर बनाना चाहते है तो ये आर्टिकल आपके लिए उपयोगी होगा।

इस आर्टिकल में हम आपके साथ DMLT क्या होता है, इसकी फीस कितनी होती है, इसमें एडमिसन के लिए योग्यता कितनी चाहिए और Dmlt Syllabus in Hindi के बारे में पूरी विस्तार से बताने की कोशिश करेगें।

DMLT क्या होता है? | What is DMLT in Hindi

DMLT का मतलब Diploma in Medical Lab Technology होता है। यह एक तरह का एक डिप्लोमा कोर्स होता है। मेडिकल विभाग में रुचि रखने वाले विद्यार्थी DMLT का डिप्लोमा कोर्स को ज्यादा करते है।

12वीं साइंस साइड से पास होने वाले विद्यार्थी ही इस कोर्स को कर सकते है। यदि आप मेडिकल फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते है तो यह डिप्लोमा कोर्स आपके लिए सबसे बेस्ट रहेगा। इस कोर्स को करने के बाद आप पैथोलॉजी सेंटर और हॉस्पिटल्स में लैबोरेटरी तकनीशियन के रूप में आसानी से जॉब पा सकते है।

DMLT के कोर्स में विद्यार्थी को माइक्रोबायोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, संक्रमण रोग, रक्त विज्ञान, इम्यूनोहिस्टोकेमिस्ट्री, सिटोपैथोलॉजी, इम्यूनोलॉजी, ब्लड बैंकिंग, रेडियोलॉजी जैसे विषयो को विस्तार से पढ़ाया जाता है।

DMLT का फुल फॉर्म क्या होता है? | DMLT Full Form in Hindi

DMLT का फुल फॉर्म “Diploma in Medical Laboratory Technology” होता है। जिसको हिंदी में चिकित्सा प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा कहते है। आज कल DMLT की मांग भारत मे बहुत अधिक हो गई है।

DMLT का कोर्स करने के बाद आपको जो आवश्यक ज्ञान और कौशल प्राप्त होता है उसका उपयोग आप चिकित्सा प्रयोगशाला में जांच और परीक्षण के रूप में कर सकते है।

डीएमएलटी में कितने सब्जेक्ट होते हैं | Dmlt Syllabus in Hindi

 Dmlt Syllabus in Hindi

डीएमएलटी एक 2 साल का डिप्लोमा कोर्स होता है। इन 2 सालो में विद्यार्थी को 4 समेस्टर पढ़ाया जाता है। पहले साल में 2 समेस्टर और दूसरे साल में भी 2 समेस्टर की पढ़ाई करवाई जाती है।

यहां नीचे हम आपके साथ dmlt syllabus in hindi को पूरे विस्तार के साथ सेमेस्टर वाइज शेयर करने जा रहा हूँ। उम्मीद है आपको ये जानकारी पसंद आयेगी।

DMLT First Year Syllabus-

सेमेस्टर 1:-

  • मानव शरीर रचना विज्ञान ( Human Anatomy )
  • बुनियादी मानव विज्ञान ( Basic Human Science )
  • एमएलटी की बुनियादी बातों ( Fundamentals of MLT )
  • क्लिनिकल बायोकैमिस्ट्री की मूल बातें ( Basics of Clinical Biochemistry )
  • अंग्रेजी संचार ( English Communication )
  • व्यावसायिक गतिविधियाँ ( Professional Activitie )
इसको भी पढ़े-   D Pharma Syllabus In Hindi: डी फार्मा क्या है? पूरी जानकारी

सेमेस्टर 2:-

  • मानव पैथोलॉजी ( Human Pathology )
  • बुनियादी पैथोलॉजी ( Basic pathology )
  • माइक्रोबियल इंस्ट्रूमेंटेशन ( Microbial Instrumentation )
  • मौलिक जैव रसायन ( Fundamental Biochemistry )
  • सूचना और संचार प्रौद्योगिकी ( Information and Communication Technology )
  • सामुदायिक विकास ( Community Development )

DMLT Second Year Syllabus-

सेमेस्टर 3:-

  • मानव मनोविज्ञान ( Human Physiology )
  • मेटाबोलिक और तकनीकी जैव रसायन ( Metabolic and Technical Biochemistry )
  • क्लिनिकल हेमटोलॉजी ( Clinical Hematology )
  • सामुदायिक विकास गतिविधियाँ ( Community Development Activities )
  • तकनीकी सूक्ष्म जीव विज्ञान ( Technical Microbiology )

सेमेस्टर 4:-

  • हिस्टोपैथोलॉजिकल तकनीक ( Histopathological Techniques )
  • क्लिनिकल माइक्रोबायोलॉजी ( Clinical Microbiology )
  • नैदानिक ​​जैव रसायन ( Clinical Biochemistry )
  • क्लीनिकल पैथोलॉजी ( Clinical Pathology )
  • पैथोलॉजी लैब ( Pathology Lab )

डीएमएलटी कोर्स कितने साल का होता है?

भारत मे आमतौर DMLT का कोर्स 2 साल का होता है। इन 2 वर्षों में 4 सेमेस्टर की पढ़ाई विद्यार्थियों को कराई जाती है। इन 2 वर्षों में स्टूडेंट को चिकित्सा प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी की तकनीकों और कार्यों का ज्ञान दिया जाता है। DMLT के कोर्स में विद्यार्थी को थ्योरी के साथ साथ प्रैक्टिकल ज्ञान भी दिया जाता है।

डीएमएलटी कोर्स के लिए योग्यता? | DMLT Course Eligibility in Hindi

DMLT कोर्स के लिए आपके अंदर कई सारी योग्यता का होना जरूरी है। इनके कुछ महत्वपूर्ण योग्यता को हम नीचे शेयर कर रहे है। उम्मीद है ये जानकारी आपके लिए उपयोगी होगी।

  • DMLT कोर्स में एडमिसन लेने के लिए आपको 12वीं फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी में से किसी एक से पास होना जरूरी है। इसके साथ साथ आपका 12वीं में 50% अंक आना भी जरूरी है।
  • DMLT कोर्स में एडमिसन लेने के लिए आपकी उम्र 17 से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इससे कम या ज्यादा होने पर आपका एडमिसन नही होगा।
  • DMLT कोर्स में एडमिसन लेने के लिए आपको कुछ संस्थान में प्रवेश परीक्षा भी देना पड़ता है। जबकि कुछ जगहों पर प्रवेश परीक्षा मेरिट आधारित होता है। आप इसकी सटीक जानकारी अपने संस्थान से सम्पर्क करके पा सकते है।
  • कुछ संस्थानों में शारीरिक स्वास्थ्य भी देखा जाता है जबकि ज्यादातर जगहों पर शारीरिक स्वास्थ्य नही देखा जाता है।

DMLT कोर्स में एडमिसन लेने के लिए हमने आपको कुछ महत्वपूर्ण मापदंड बताया है। आप अपने संस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर इन मापदंडों के बारे में पूरी जानकारी ले सकते है।

डीएमएलटी करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है? | Salary After DMLT Course?

कई लोगो के मन मे ये सवाल होता है कि डीएमएलटी (DMLT) कोर्स पूरा करने के बाद हमको कितनी सैलरी मिल सकती है। हम आपको बता दे डीएमएलटी (DMLT) कोर्स पूरा करने के बाद आपकी सैलरी कई सारी बातों पर निर्भर करती है। जैसे आपको अनुभव कितना है, आप किस क्षेत्र में नौकरी कर रहे है और आपके नौकरी का पद क्या है।

यदि आप भारत मे एक डीएमएलटी तकनीशियन के रूप में जॉब करते है तो इस स्तिथि में आपको 15000- 35000 रुपये प्रति महीना तक मिल सकता है। जैसे जैसे आपको अनुभव होता जायेगा वैसे वैसे आपकी सैलरी भी बढ़ती जायेगी।

इसके साथ साथ डीएमएलटी (DMLT) कोर्स करने के बाद आप आगे की पढ़ाई के लिए बैचलर ऑफ साइंस इन मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी और मास्टर ऑफ साइंस इन मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी जैसी जगहों पर एडमिसन भी ले सकते है। यहां पढ़ाई करने के बाद आप लाखो रुपये महीना तक का जॉब पा सकते है।

इसको भी पढ़े-   MA Economics Syllabus In Hindi: एम ए इकोनॉमिक्स क्या होता है

इसके साथ साथ आप डीएमएलटी (DMLT) कोर्स पूरा करने के बाद अपना खुद का कोई जांच सेंटर भी खोल सकते है। यदि आपका जांच सेंटर चल जाता है तब आप इन सैलरी के मुकाबले और अधिक पैसा कमा सकते है।

इस तरह से कह सकते है कि डीएमएलटी (DMLT) कोर्स के बाद आप एक नार्मल जॉब कर सकते है इसके साथ साथ आप खुद का भी कुछ ना कुछ खोल सकते है। मतलब की आप डीएमएलटी (DMLT) कोर्स के माध्यम से अपना करियर बना सकते है।

डीएमएलटी कोर्स की फीस कितनी होती है? | DMLT Course Fees

भारत मे डीएमएलटी (DMLT) कोर्स की फीस विभिन्न संस्थानों और कॉलेजों में अलग अलग होती है। यह फीस भारतीय यूनिवर्सिटीज और प्रौद्योगिकी संस्थानों द्वारा तय किया जाता है।

भारत मे आमतौर पर डीएमएलटी कोर्स की 20,000 रुपये से लेकर 1,50,000 रुपये तक हर साल के लिए हो सकता है। इसके साथ साथ आप छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करके इन फीस में और छूट पा सकते है।

अगर आपको डीएमएलटी कोर्स की एकदम सटीक फीस का पता करना है तो आप जिस संस्थान या कॉलेज में एडमिसन लेने जा रहे है उससे कांटेक्ट करके इसकी एकदम सही जानकारी ले सकते है।

इन सालाना फीस के अलावा स्टूडेंट के और भी खर्च होते है जैसे शैक्षणिक किताबें, लैब किट, वर्कशॉप शुल्क, परीक्षा शुल्क छात्रवास, परिवहन के खर्च, और दैनिक खर्चों उनमे से मुख्य है।

भारत मे डीएमएलटी कोर्स के लिए बेस्ट कॉलेज? | Best College For DMLT Course

Best Colleges for DMLT Courses in India

भारत में कई सारे कॉलेज और संस्थान है जो DMLT (Diploma in Medical Laboratory Technology) का डिप्लोमा कोर्स करवाते है। यहां हम आपके साथ भारत के 10 सबसे बेस्ट और प्रसिद्ध कॉलेज को शेयर कर रहा हूँ। जहां से आप DMLT का कोर्स करके अपना एक बढ़िया करियर बना सकते है।

  • आल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेस, दिल्ली (AIIMS)
  • आल इंडिया मेडिकल इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज, बंगलुरु (AIMS)
  • बायरामजी जीजीभॉय गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, पुणे
  • पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, चंडीगढ़ (PGIMER)
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ़ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, पुडुचेरी (JIPMER)
  • एर्नाकुलम मेडिकल कॉलेज, केरल (EMC)
  • बायरामजी जीजीभॉय गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, पुणे
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई (MMC)
  • एम्स इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, कोलकाता (AIER)
  • सेथ गविनदास सुंदर राम मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, उत्तराखंड (SGRRMC)
  • गोव्त मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, बंगलोर (GMCR)
  • राजिव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, दिल्ली (RGSSH)

हमने आपको ऊपर जितने भी कॉलेज के बारे में बताया है यदि आप वहां से DMLT का कोर्स करते है तो इसका आपको बहुत लाभ मिल सकता है। क्योंकि इन कॉलेजो में उच्च कोटि की पढ़ाई कराई जाती है।

इनको भी पढ़े:

DMLT और MLT में क्या अंतर है?

DMLT (Diploma in Medical Laboratory Technology) और MLT (Medical Laboratory Technology) में कई सारे अंतर होते है। इनके कुछ महत्वपूर्ण अंतर को हम आपके साथ शेयर करने जा रहे है।

  • DMLT एक 2 साल का डिप्लोमा कोर्स होता है वही MLT एक बेचलर डिग्री होती है। MLT की पढ़ाई की अवधि 3-4 साल की होती है।
  • DMLT के कोर्स को करने के लिए आपको 12वीं पास होना जरूरी है वही MLT में एडमिशन लेने के लिए आपको 12वीं साइंस साइड से पास होना जरूरी है। इसके साथ साथ आपके 12वीं में नंबर 50% से ज्यादा होना चाहिए।
  • DMLT कोर्स में आपको लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी के बारे में पढ़ाया जाता है जबकि MLT में आपको लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी के अलावा और भी कई सारी विषयो को पढ़ाया जाता है।
  • DMLT एक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसमे बेसिक लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी को विद्यार्थी को पढ़ाया जाता है जबकि MLT में अध्यापक स्तर का प्रशिक्षण स्टूडेंट को दिया जाता है।
  • DMLT कोर्स करने के बाद आप स्वास्थ्य संगठनों या प्राइवेट चिकित्सा प्रयोगशालाओं में टेक्नीशियन या लैब एसिस्टेंट के रूप में काम कर सकते हैं। जबकि MLT की बेचलर डिग्री लेने के बाद आप उच्चतर स्तरीय नौकरियां कर सकते है।
इसको भी पढ़े-   D Pharma Syllabus In Hindi: डी फार्मा क्या है? पूरी जानकारी

इन सभी अंतरों के अलावा और भी कई सारे अंतर DMLT और MLT में होते है। आप अपने करियर लक्ष्य और अपनी रुचि के अनुसार इन दोनों में से किसी एक का चुनाव कर सकते है।

DMLT कोर्स करने के बाद आगे और कौनसी पढ़ाई करें?

  • बैचलर ऑफ साइंस इन मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी (BSc MLT)
  • बैचलर ऑफ मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी (BMLT)
  • मेडिकल इमेजिंग टेक्नोलॉजी में बैचलर ऑफ साइंस (BSMT)
  • क्लिनिकल प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी में विज्ञान स्नातक
  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी
  • कैथ लैब तकनीशियन में सर्टिफिकेट कोर्स
  • मेडिकल रिकॉर्ड प्रौद्योगिकी में प्रमाणपत्र

निष्कर्ष?

अब तक के आर्टिकल में आपको DMLT क्या होता है, Dmlt Syllabus in Hindi, और DMLT और MLT में क्या अंतर है जैसी और भी बहुत से बातो के बारे में आपको अच्छी जानकारी हो गई होगी!

यदि आपका DMLT को लेकर कोई सवाल या फिर सुझाव हो तो आप कमेंट के माध्यम से हमको बता सकते है! हम आपके उस सवाल या फिर सुझाव को जल्द से जल्द हल करने की कोशिश करेगें!

DMLT Syllabus in Hindi के बारे में सामान्य प्रश्न?

क्या भारत में डीएमएलटी यूएसए में मान्य है?

हाँ, भारत में डीएमएलटी (DMLT) यूएसए में मान्य होता है। यह विभिन्न अधिकारिक संगठनों द्वारा मान्यता प्राप्त किया जाता है और यूएसए में लैबोरेटरी तकनीशियन के पद के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करता है।

कॉमर्स स्टूडेंट्स DMLT कोर्स कर सकते है क्या?

हाँ! भारत मे कॉमर्स स्ट्रीम के स्टूडेंट भी DMLT का कोर्स कर सकते है। कॉमर्स स्ट्रीम के स्टूडेंट DMLT करके मेडिकल लैबोरेटरी तकनीशियन, टेक्नीशियन और लैब असिस्टेंट के रूप में भारत और विदेशो में अपना करियर बना सकते है।

क्या DMLT कोर्स करके खुदकी पैथोलॉजी लैब शुरू कर सकते है?

हाँ, DMLT कोर्स करके आप खुदकी पैथोलॉजी लैब शुरू कर सकते हैं। आप अपनी खुद की पैथोलॉजी लैब में अलग अलग चीज़ों की जांच करके अच्छा पैसा कमा सकते है।

क्या डीएमएलटी के बाद बीएससी नर्सिंग कर सकते हैं?

हाँ, डीएमएलटी के बाद आप बीएससी नर्सिंग कर सकते हैं। डीएमएलटी एक डिप्लोमा कोर्स है जबकि बीएससी नर्सिंग एक एक बेचलर डिग्री होती है। आप डीएमएलटी और बीएससी नर्सिंग दोनों के द्वारा अपना एक बढ़िया करियर बना सकते है।

डीएमएलटी के बाद कौन सा कोर्स बेहतर है?

डीएमएलटी के बाद बैचलर ऑफ़ नर्सिंग, बैचलर ऑफ़ फार्मेसी, बैचलर ऑफ़ आयुर्वेदिक मेडिसिन एंड सर्जरी, बैचलर ऑफ़ रेडियोलॉजी टेक्नोलॉजी और बैचलर ऑफ़ पैरामेडिकल साइंसेस कोर्स को सबसे बेहतर माना जाता है!

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

1 thought on “DMLT Syllabus in Hindi: डीएमएलटी कोर्स क्या है? पूरी जानकारी”

Leave a Comment

error: Content is protected !!