MPHW Course Details in Hindi: MPHW के बारे में सब कुछ जाने?

इस लेख की रूपरेखा:

यदि आप मेडिकल के फील्ड में एक बढ़िया करियर बनाना चाहते है। MPHW कोर्स आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। MPHW का कोर्स करके आप अपना एक बढ़िया करियर बना सकते है। कोई भी 12वीं पास विद्यार्थी MPHW का कोर्स कर सकता है।

MPHW Course Details in Hindi के इस लेख में आप MPHW कोर्स क्या होता है, MPHW Full Form, MPHW कोर्स कितने साल का होता है, MPHW कोर्स के लिए योग्यता, MPHW कोर्स में एडमिशन कैसे लें, MPHW कोर्स की फीस, MPHW Course Syllabus और MPHW कोर्स के करने के बाद कौन कौन सी नौकरी मिलती है के बारे में जानेगें!

MPHW कोर्स क्या होता हैं? | What is MPHW Course in Hindi

MPHW का मतलब Multipurpose Health Worker होता है। MPHW एक प्रशिक्षण कार्यक्रम है जिसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीण और पिछले इलाके जहाँ पर अस्पताल तथा डॉक्टर नही होते हैं। वैसे जगहों पर मरीजों का इलाज करना होता है।

MPHW एक 2 साल का डिप्लोमा कोर्स होता है। MPHW में विद्यार्थियों को स्वास्थ्य सेवाओं की मूल जानकारी, रोग प्रबंधन, सामुदायिक स्वास्थ्य योजनाओं का पता और स्वास्थ्य जागरूकता देने जैसे विभिन्न कौशल सिखाए जाते हैं।

MPHW की 2 साल की कोर्स को 4 सेमस्टर में बाँटा गया है। MPHW कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद विद्यार्थी अस्पताल, नर्सिंग होम, एनजीओ, कम्युनिटी हेल्थ सेंटर, डिस्पेंसरी और प्राइवेट क्लिनिक, आदि जॉब पा सकता है।

MPHW कोर्स क्यों करना चाहिये?

MPHW कोर्स करने के कई कारण हैं। यह कोर्स उन लोगों के लिए बेहतरीन है जो स्वास्थ्य सेवाओं में रुचि रखते हैं और लोगों की सेहत में सकारात्मक परिवर्तन लाना चाहते हैं। यहां हम आपको कुछ मुख्य कारणों के बारे में बता रहे हैं जो MPHW कोर्स करने के लिए आपको प्रेरित कर सकते हैं।

  • MPHW कोर्स आपको सामाजिक सेवा के फील्ड में काम करने का मौका देता है। इस कोर्स के माध्यम से आप ग्रामीण और पिछले इलाके में स्वास्थ्य सेवाओं को प्रदान करके उनके लाइफ में सकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं।
  • MPHW कोर्स करने से आपकी सेहत जागरूकता बढ़ जाती है। MPHW कोर्स में मिले ज्ञान का उपयोग करके आप लोगों को स्वास्थ्य संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी दे सकते है।
  • MPHW कोर्स पूरा करने के बाद आप स्वास्थ्य सेवाओं में अपना एक बेहतरीन करियर बना सकते हैं। आप अस्पतालों, स्वास्थ्य केंद्रों, और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में उच्च कोटि की हाई सैलरी वाली जॉब पा सकते है।
  • भारत मे आज के समय में स्वास्थ्य सेवाओं का डिमांड दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। इसलिए MPHW कोर्स आपको रोजगार के कई सारे अवसर प्रदान करता है। MPHW कोर्स में प्राप्त कौशल का उपयोग करके आप प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल, मातृत्व और शिशु स्वास्थ्य, और सामुदायिक स्वास्थ्य सेवाओं में नौकरी पा सकते हैं।
इसको भी पढ़े-   NTT Course Details in Hindi: एनटीटी क्या होता है? सबकुछ जाने

एमपीएचडब्ल्यू का फुल फॉर्म क्या है | MPHW Full Form

MPHW का Full Form “Multipurpose Health Worker” होता है। जिसको हिंदी में बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कार्यकर्ता कहते है। MPHW कोर्स में विद्यार्थियों को स्वास्थ्य सेवाओं, सामुदायिक स्वास्थ्य, मातृत्व और शिशु स्वास्थ्य, रोग प्रबंधन, और स्वास्थ्य संगठनों के फील्ड में बेहतरीन ज्ञान प्रदान किया जाता है।

MPHW कोर्स कितने साल का होता है?

MPHW की अवधि 2 साल होती है। इन 2 सालो में विद्यार्थियों को 4 सेमेस्टर की पढ़ाई करवाई जाती है। MPHW एक डिप्लोमा कोर्स होता है। कुछ संस्थानों में MPHW कोर्स की अवधि 1 साल भी होती है। इसलिए किसी भी संस्थान में एडमिशन लेने से पहले इन सभी चीज़ों की अच्छे से जानकारी जरूर ले ले।

MPHW कोर्स के लिए आयु सीमा क्या चाहिए है?

MPHW कोर्स में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थी की न्यूनतम आयु 17 साल होनी चाहिए वही अधिकतम आयु 35 साल तक होनी चाहिए। MPHW कोर्स के लिए आवेदन करने से पहले, छात्रों को अपनी आयु सीमा के बारे में निर्दिष्ट नियमों और शर्तों की जांच जरूर कर लेनी चाहिए।

MPHW कोर्स के लिए योग्यता | MPHW Course Qualification

MPHW कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्रों को कुछ योग्यता की जरूरत होती है। निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करने वाले छात्रों को ही MPHW कोर्स में प्रवेश मिल सकता है।

  • MPHW कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आवेदक भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास होना चाहिए। कुछ संस्थानों में 10वीं पास विद्यार्थी को भी एडमिसन मिल जाता है।
  • MPHW कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आवेदक की उम्र 17 से 35 साल के बीच मे होनी चाहिए।
  • MPHW कोर्स में एडमिसन लेने के लिए आवेदक को स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में कार्य करने के लिए रुचि होनी चाहिए।
  • MPHW कोर्स में एडमिसन लेने के लिए आवेदक भारत का नागरिक होने चाहिए।

MPHW कोर्स में एडमिशन कैसे लें?

MPHW कोर्स में एडमिशन लेने की प्रक्रिया बहुत ही आसान होती है। आप निम्नलिखित प्रक्रिया को फॉलो करके MPHW कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

  • सबसे पहले, यह सुनिश्चित करें कि आप MPHW कोर्स के लिए योग्य है कि नही हैं। आप ऊपर बताये गए जरूरी योग्यता को पढ़कर सुनिश्चित कर सकते है।
  • अपने नजदीकी कॉलेज या प्रशिक्षण संस्थान से MPHW कोर्स के लिए आवेदन पत्र प्राप्त करें। आवेदन पत्र के बारे में और अधिक जानकारी आपको कॉलेज या प्रशिक्षण संस्थान के आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर मिल सकता है।
  • आवेदन पत्र को ध्यान से भरें और सभी आवश्यक जानकारी और दस्तावेज़ों को उसके साथ लगाये। इसमें आपका नाम, पता , शैक्षणिक योग्यता, और अन्य संबंधित जानकारी शामिल होनी चाहिए।
  • पूरा आवेदन पत्र और संबंधित दस्तावेज़ों के साथ संस्थान में जाकर आवेदन जमा करें। आवेदन पत्र के साथ साथ आपको आवेदन फीस भी जमा करनी हो सकती है
  • यदि आपका आवेदन स्वीकार होता है, तो आपका नाम मेरिट सूची में आ जायेगा। और इस तरह से आपका एडमिसन MPHW कोर्स में हो जायेगा।

इन सभी प्रक्रिया को फॉलो करके आप MPHW कोर्स में एडमिसन आसानी से ले सकते है। कुछ कॉलेजो में थोड़ा अलग तरह की भी प्रवेश प्रक्रिया हो सकती है। इसलिए आपको अपने चयनित कॉलेज की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर सटीक जानकारी जरूर ले लेनी चाहिए।

MPHW कोर्स की फीस कितनी होती है? | MPHW Course Fees

हर एक कॉलेज या संस्थान में MPHW कोर्स की फीस अलग अलग होती है। अगर बात करें MPHW कोर्स की एक औसत फीस की तो वह फीस ₹25,000 से ₹100,000 रुपये तक हो सकती है। सरकारी कॉलेज में फीस प्राइवेट कॉलेज के मुकाबले थोड़ी कम होती है। फीस के बारे में एकदम सटीक जानकारी आपको कॉलेज या संस्थान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर मिल सकती है।

MPHW Course Syllabus in Hindi | एमपीएचडब्ल्यू कोर्स का पाठ्यक्रम

MPHW एक 2 साल का डिप्लोमा कोर्स होता है। हर साल विद्यर्थियों को क्या क्या पढ़ाया है उसके बारे में यहाँ बताने जा रहे है। इनको जानने के बाद आपको MPHW Course Syllabus in Hindi के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो जायेगी।

इसको भी पढ़े-   BSMS Course Details in Hindi: BSMS क्या होता है? सब कुछ जाने

MPHW Course 1st Year Syllabus?

  • एनाटोमी एंड फिजियोलॉजी
  • माइक्रोबायोलॉजी
  • हेल्थ एंड हाइजीन
  • फिजियोलॉजी
  • कंप्यूटर स्किल

MPHW Course 2nd Year Syllabus?

  • सब्जेक्ट्स थ्योरी प्रैक्टिकल टोटल
  • पब्लिक हेल्थ
  • फर्स्ट एड एंड इमरजेंसी केअर
  • हेल्थ इनफार्मेशन एजुकेशन एंड कम्युनिकेशन
  • कम्युनिकेशन स्किल

MPHW कोर्स के लिए भारत के बेस्ट कॉलेज | Best MPHW Colleges

भारत कई सारे कॉलेज हैं जहाँ से आप MPHW की उच्च कोटि की शिक्षा ले सकते है। यहाँ हम आपके साथ भारत में MPHW कोर्स के लिए कुछ बेस्ट कॉलेजो की सूची को शेयर कर रहे है। इन सभी कॉलेजो में विद्यार्थियों को उच्च कोटि की शिक्षा प्रदान की जाती है।

  • आदेश पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट, कुरुक्षेत्र, हरियाणा
  • आर्यभट्ट कॉलेज ऑफ नर्सिंग, फतेहाबाद, हरियाणा
  • जोधपुर स्कूल ऑफ पुब्लिक हेल्थ, जयपुर, राजस्थान
  • आदेश पैरामेडिकल कॉलेज, सहारनपुर, उत्तर प्रदेश
  • राजीव गांधी कॉलेज ऑफ नर्सिंग, जम्मू
  • लाल बहादुर शास्त्री स्कूल ऑफ नर्सिंग, बिलासपुर-हरियाणा
  • भार्गव पैरामेडिकल कॉलेज, सांबा
  • द इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्निकल एजुकेशन, जमशेदपुर, झारखंड
  • द गांधीग्राम इंस्टीट्यूट ऑफ रूरल हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर ट्रस्ट, डिंडीगुल, तमिलनाडु
  • भार्गव पैरामेडिकल कॉलेज, साम्बा, जम्मू
  • दिल्ली पैरामेडिकल मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट
  • मेडिकल एंड नर्सिंग कॉलेज कोलकाता
  • पंजाब पैरामेडिकल साइंस, मोहाली, पंजाब
  • गुरुकुल इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी, दिल्ली

MPHW कोर्स करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है

MPHW कोर्स करने के बाद मिलने वाली सैलरी नौकरी के प्रकार, अनुभव, क्षेत्र, स्थान और कंपनी पर निर्भर करता है। अगर बात करें MPHW कोर्स करने के बाद मिलने वाली एक औसत शुरुआती सैलरी की तो वह 9,000 से 12,000 रुपये प्रतिमाह तक मिल सकता है।

समय के साथ साथ अनुभव होने पर यही सैलरी ₹18,000 से ₹30,000 हजार रुपये तक प्रति महीना तक हो सकती है। इस तरह से कह सकते हैं कि शुरुआत में आपको सैलरी कम मिलती है लेकिन जैसे जैसे आपको अनुभव होता जाता है वैसे वैसे आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है।

MPHW कोर्स करने के फायदे | MPHW Course Karne Ke Fayde?

MPHW कोर्स करने के कई सारे फायदे है। इसके कुछ जरूरी फायदे को यहाँ हम शेयर कर रहे है। उन फायदे को जानने के बाद आपका भी मन MPHW कोर्स करने का हो जायेगा।

  • MPHW कोर्स आपको स्वास्थ्य सेवाओं में काम करने के लिए बेहतरीन कौशल और ज्ञान देता है। MPHW कोर्स करने के बाद आपको स्वास्थ्य और जनसंख्या के मुद्दों, रोग प्रबंधन, जनसंचार, परिवार योजना, आहार और पोषण, और स्वास्थ्य संवेदनशीलता जैसे चीज़ों के बारे में बेहतरीन ज्ञान हो जाता है।
  • MPHW कोर्स आपको कम्युनिटी स्वास्थ्य केंद्रों, ग्रामीण क्षेत्रों, और अन्य स्वास्थ्य संबंधित संगठनों में काम करने का अवसर देता है।
  • MPHW कोर्स करने के बाद आपको स्वास्थ्य फील्ड में करियर बनाने के विभिन्न अवसर मिलते हैं। MPHW कोर्स के बाद आप बीमारियों के निदान, जनसंख्या नियंत्रण, मातृ और शिशु स्वास्थ्य, और सामुदायिक स्वास्थ्य के फील्ड में नौकरी पा सकते हैं।
  • MPHW कोर्स आपको स्वास्थ्य के फील्ड में आगे बढ़ने के लिए अवसर प्रदान करता है। MPHW कोर्स के बाद आप स्नातकोत्तर शिक्षा, स्पेशलाइजेशन कोर्सेस, और स्वास्थ्य प्रबंधन में अधिकारिता जैसे चीज़ों को करके अपने करियर को और उच्च कोटि पर ले जा सकते है।

MPHW कोर्स के करने के बाद नौकरी | Job After MPHW Course?

MPHW कोर्स के करने के बाद आपको कई सारे पदों पर उच्च कोटि की नौकरियां मिल सकती हैं। MPHW कोर्स करने के बाद मिलने वाले कुछ महत्वपूर्ण नौकरियों को यहाँ हम शेयर कर रहे हैं।

सरकारी स्वास्थ्य विभागों में सहायक स्वास्थ्य कार्यकर्ता: MPHW कोर्स करने के बाद आप सहायक स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में नौकरी पा सकते हैं। एक सहायक स्वास्थ्य कार्यकर्ता को सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्रों, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, और अन्य सरकारी स्वास्थ्य संगठनों में काम करने का मौका मिलता है।

इसको भी पढ़े-   MSW Course Details in Hindi: MSW कोर्स क्या है? पूरी जानकारी

ग्रामीण स्वास्थ्य कार्यकर्ता: MPHW कोर्स करने के बाद आप गांवों और ग्रामीण क्षेत्रों में, ग्रामीण स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में नौकरी पा सकते हैं। एक ग्रामीण स्वास्थ्य कार्यकर्ता का मुख्य काम स्वास्थ्य जागरूकता, रोग प्रबंधन, मातृ और शिशु स्वास्थ्य, और बीमारियों का निदान जैसा काम करना पड़ता है।

जनसंचार कार्यकर्ता: MPHW कोर्स के बाद, आप जनसंचार कार्यकर्ता के रूप में भी नौकरी पा सकते हैं। जनसंचार कार्यकर्ता के रूप में आप स्वास्थ्य संदेशों को सामुदायिक स्तर पर पहुंचाने और जनसंचार के माध्यम स्वास्थ्य जागरूकता बढ़ाने का काम कर सकते है।

मातृ और शिशु स्वास्थ्य कार्यकर्ता: MPHW की पढ़ाई पूरा करने के बाद आप मातृ और शिशु स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में जॉब पा सकते है। एक मातृ और शिशु स्वास्थ्य कार्यकर्ता का मुख्य काम माताओं और नवजात शिशु की देखभाल, और बाल स्वास्थ्य का काम करना पड़ता है।

औषधालयों और स्वास्थ्य संगठनों में औषधीय सहायक: MPHW कोर्स करने के बाद आपको औषधालयों और स्वास्थ्य संगठनों में औषधीय सहायक के रूप में भी जॉब मिल सकती है। इसमे आपको रसायनज्ञी, दवाइयों के अंदाज़े, और ग्राहकों को सलाह देने का काम करना पड़ता है।

स्वास्थ्य अधिकारी: MPHW कोर्स के बाद आप स्वास्थ्य अधिकारी के रूप में भी नौकरी पा सकते है। एक स्वास्थ्य अधिकारी का मुख्य काम स्वास्थ्य संस्थानों में कार्य की निगरानी और स्वास्थ्य नीतियों और दिशानिर्देशों का पालन करना होता है।

स्वास्थ्य परामर्शदाता या स्वास्थ्य संचारिका: MPHW की पढ़ाई पूरा करने के बाद आप स्वास्थ्य परामर्शदाता या स्वास्थ्य संचारिका के रूप में भी नौकरी पा सकते हैं। इसमे आपको जनसंचार के माध्यम से स्वास्थ्य जागरूकता बढ़ाने, स्वास्थ्य समस्याओं पर सही जानकारी प्रदान करना, और स्वास्थ्य कैंपेन में सहायता करने जैसे कामो को करना पड़ता है।

MPHW कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई के क्या विकल्प हैं?

MPHW कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई के लिए कई विकल्प उपलब्ध हैं। कुछ महत्तपूर्ण विकल्प निम्नलिखित हैं?

  • बीएससी नर्सिंग
  • बी.फार्म
  • एम.फार्मा
  • डी.फार्म
  • सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग में पीजी डिप्लोमा
  • स्वास्थ्य देखभाल प्रबंधन में पीजी डिप्लोमा
  • बीएससी इन सार्वजनिक स्वास्थ्य
  • एमएससी इन नर्सिंग
  • पीएचडी इन नर्सिंग

निष्कर्ष:-

MPHW कोर्स करने के बाद आपको विभिन्न क्षेत्रों में करियर और सेवा करने का मौका मिलता है। MPHW कोर्स के बाद आप सरकारी स्वास्थ्य विभागों, ग्रामीण स्वास्थ्य केंद्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, औषधालयों, और अन्य स्वास्थ्य संगठनों में नौकरी पा सकते हैं। इसलिए कह सकते है कि MPHW कोर्स आपको स्वास्थ्य फील्ड में एक समृद्ध करियर के लिए बेहतरीन अवसर प्रदान करता है।

मुझे पूरी उम्मीद है कि इस पूरे लेख को पढ़ने के बाद आपको MPHW Course Details in Hindi के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो गई होगी। यदि आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसको सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

MPHW Course Details in Hindi के बारे में सामान्य प्रश्न?

MPHW कोर्स की अवधि क्या है?

MPHW कोर्स की अवधि आमतौर पर 2 साल होती है। लेकिन कुछ कॉलेज और संस्थानों में MPHW कोर्स की अवधि 1 साल तक भी होती है।

MPHW कोर्स के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

कोई भी विद्यार्थी जो 12वीं पास हो, उसकी उम्र 17 से 35 वर्ष के बीच में हो और उसको स्वास्थ्य फील्ड में रुचि हो, वह MPHW कोर्स में आसानी से एडमिसन ले सकता है।

MPHW कोर्स के बाद कौन-कौन सी नौकरियां मिल सकती हैं?

MPHW कोर्स के बाद विद्यार्थियों को सहायक स्वास्थ्य कार्यकर्ता, ग्रामीण स्वास्थ्य कार्यकर्ता, जनसंचार कार्यकर्ता और मातृ और शिशु स्वास्थ्य कार्यकर्ता जैसी नौकरियां मिल सकती हैं।

MPHW कोर्स की फीस कितनी होती है?

हर एक कॉलेज और संस्थान की फीस अलग अलग होती है। अगर बात करें MPHW कोर्स की एक औसत फीस की तो वह ₹25,000 से ₹1,00,000 प्रति साल तक हो सकता है।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

3 thoughts on “MPHW Course Details in Hindi: MPHW के बारे में सब कुछ जाने?”

  1. Dmphw ka bihar me Vaccensy kis name se nikalta hai. ? Mai 14-15 session me dmphw course complit h. My dob 1982 h
    Kya mujhe government job mil sakta h?
    Aise apna dispensary ke roop me involved hu

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!