CFP Course Details: फायनेंशियल प्लानर बनने का आधुनिक मार्ग।

भारत मे CFP कोर्स के बारे में बहुत ही कम लोगो को पता होता हैं। यदि आपको भी CFP कोर्स के बारे में कुछ नही पता है तो आप बिल्कुल सही जगह पर आये हो। सीएफपी एक कमाल का कोर्स होता है जिसके माध्यम से आप अपना एक उच्च कोटि का करियर बना सकते हैं।

आज हम इस लेख में आपको CFP Course Details in Hindi के बारे में पूरे विस्तार से और एकदम सरल भाषा में जानकारी देगें। इस पूरे आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको CFP Course के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो जायेगी। तो चलिये शुरू करते हैं?

सीएफपी क्या होता है? | What is CFP in Hindi

CFP का मतलब Certified Financial Planner होता हैं। इस कोर्स की अवधि 6 महीने से लेकर 2 साल तक होती हैं। इस कोर्स में Financial Planning के बारे में उच्च कोटि की शिक्षा दी जाती हैं।

Financial Planning Standards Board (FPSB) के माध्यम से आप CFP कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स में विद्यार्थियों को मुख्य रूप से फाइनेंसियल प्लानिंग, रिस्ट एनालिसिस, इन्शुरन्स प्लानिंग और टैक्स प्लानिंग के बारे में पढ़ाया जाता हैं।

CFP कोर्स उन लोगो के लिए बेस्ट है जो एक financial advisors के रूप में काम करके लोगो के finances को मैनेज करने चाहते हैं। CFP कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा का आयोजन साल में 3 बार किया जाता हैं।

सीएफपी कोर्स क्यों करें?

सीएफपी कोर्स करने के कई सारे कारण है। इसके कुछ महत्वपूर्ण कारणों को हम यहाँ शेयर कर रहे है। इनको जानने के बाद आपको एक आईडिया लग जायेगा कि आपको सीएफपी कोर्स क्यों करना चाहिए।

  • सीएफपी कोर्स करने से आपको financial फील्ड में एक बेहतरीन करियर बनाने का अवसर मिलता हैं। इस कोर्स को करने के बाद आपको financial sectors में कई तरह के रोजगार मिल सकते हैं।
  • सीएफपी कोर्स करने के बाद आप Financial Planner के एक्सपर्ट बन जाते हैं। जो आपके कस्टमर्स के अंदर विश्वास और आत्मविश्वास पैदा करता है।
  • सीएफपी कोर्स आपके अंदर वित्तीय संपत्ति को बनाने और इसे व्यवस्थित रखने के लिए उच्च कोटि का ज्ञान प्रदान करता है। इससे आप अपनी वित्तीय स्थिति को और अच्छा बना सकते हैं।
  • सीएफपी कोर्स करने के बाद, आप आत्मनिर्भरता से फाइनेंसियल एडवाइस जैसी सेवा देकर खुद का व्यवसाय खोल सकते हैं। इसमे आप अपने व्यवसाय के खुद मालिक होते हैं।
इसको भी पढ़े-   DCA Karne Ke Fayde: डीसीए कोर्स क्या होता है? पूरी जानकारी

सीएफपी कोर्स का सिलेबस? | CFP Course Syllabus in Hindi

सीएफपी कोर्स के सिलेबस में 6 मॉड्यूल्स होते हैं। हर एक मॉड्यूल्स में कई टॉपिक को कवर किया जाता हैं। यहाँ हम आपको केवल सीएफपी कोर्स के सिलेबस के 6 मॉड्यूल्स को बताने जा रहा हूँ। उम्मीद है ये जानकारी आपको पसंद आयेगी।

  • Introduction to Financial Planning
  • Risk Analysis and Insurance Planning
  • Retirement Planning and Employee Benefits
  • Investment Planning
  • Tax Planning & Estate Planning
  • Estate Planning
  • Advanced Financial Planning

सीएफपी कोर्स की अवधि? | CFP Course Duration

आमतौर पर सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लैनर कोर्स की अवधि 6 महीने से लेकर 2 साल तक होता है। यह अवधि विभिन्न तत्वों पर निर्भर करती है, जैसे कि पाठ्यक्रम के विवरण, अध्ययन के समय का भाग, अध्ययन की प्रतिस्पर्धा उनमे से मुख्य है।

सीएफपी कोर्स के दौरान आपको नियमित शिक्षण सत्र, प्रशिक्षण कार्यक्रम, और परीक्षा से गुजरना होता है। कुल मिलाकर, इस कोर्स को पूरा करने में आपको अधिकांश समय की आवश्यकता होती है।

सीएफपी कोर्स के लिए भारत के टॉप कॉलेज | Top Colleges in India For CFP Course?

भारत मे बहुत से कॉलेज और संस्थान हैं जहाँ से आप सीएफपी कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। यहाँ हम कुछ टॉप के कॉलेज और संस्थान को शेयर करने जा रहे हैं। उम्मीद है कि ये जानकारी आपके काम की होगी।

  • इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट एंड एडमिनिस्ट्रेशन, हैदराबाद
  • इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट एंड एडमिनिस्ट्रेशन, पटना
  • इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट एंड एडमिनिस्ट्रेशन, नई दिल्ली
  • आईएमएस प्रो स्कूल, पुणे
  • आईसीआईसीआई डायरेक्ट सेंटर फॉर फाइनेंशियल लर्निंग, कोलकाता
  • इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ फाइनेंशियल प्लानिंग, नई दिल्ली
  • इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ फाइनेंशियल प्लानिंग, मुंबई
  • न्यू एरा इंस्टीट्यूट ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज, नई दिल्ली
  • अहमदाबाद यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ कॉमर्स, अहमदाबाद
  • इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ फाइनेंशियल प्लानिंग, चेन्नई

सीएफपी कोर्स की फीस | CFP Course Fees

TypeFee (INR)
Exam Fee (1 – 4)4,130 per attempt per exam
Exam Fee (5)8, 260 per attempt
Registration fee with FPSB India16, 385 for one year
CFPCM Certification Fees7, 080
Source: proschoolonline.com

सीएफपी कोर्स के लिए योग्यता | Eligibility For CFP Course

सीएफपी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आवेदक के पास कुछ योग्यता की जरूरत पड़ती हैं। उन महत्वपूर्ण योग्यता को हम यहाँ शेयर कर रहे हैं।

नियमित मार्ग: सीएफपी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आवेदक को 12वीं किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पास होना चाहिए। इसके अलावा आवेदक को 5 पेपर पास करने होंगे जिनमें 6 अलग-अलग मॉड्यूल शामिल हैं। इन मॉड्यूल के बारे में हमने ऊपर सेलेबस में बताया हैं।

चैलेंज स्टेटस मार्ग: यदि आवेदक के पास CFA (US), ICWA, CAIIB, CS, LLB, PhD, MPhil, PG, जैसी डिग्री हैं तो आपको सीएफपी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए Advanced Financial Planning के केवल 1 पेपर पास करना होगा।

सीएफपी कोर्स के लिए किताबें | Books For CFP Course?

सीएफपी कोर्स के प्रवेश परीक्षा के लिए यदि आप बेस्ट किताबें खोज रहें हैं तो आप सही जगह पर हैं यहाँ हम आपके लिए कुछ बेस्ट किताबें शेयर कर रहे हैं। इस किताबों को पढ़कर आप सीएफपी कोर्स की प्रवेश परीक्षा को निकाल सकते हैं।

  • Secrets of the CFP Exam Study Guide: CFP CFP – All Modules Set
  • The History of Financial Planning: The Transformation of Financial Services (Wiley Finance)
  • CFP Board Financial Planning Competency Handbook
इसको भी पढ़े-   GNM Kya Hota Hai: योग्यता, फीस, सिलेबस, बेस्ट कॉलेज और सैलरी

सीएफपी कोर्स के बाद बेस्ट करियर विकल्प? | Career Option After CFP Course?

सीएफपी कोर्स पूरा करने के बाद आप कई जगह उच्च कोटि की हाई सैलरी वाले जॉब पा सकते हैं। आप Financial Planner, Wealth Advisor और Cost Analyst जैसे पदों पर जॉब लेकर अपना एक बेहतरीन करियर बना सकते हैं। यहाँ हम आपके साथ सीएफपी कोर्स के बाद बेस्ट करियर विकल्प को शेयर करने जा रहे हैं।

  • Finance Manager
  • Financial Planner
  • Wealth Advisor
  • Cost Analyst
  • Financial Advisor
  • Portfolio Manager
  • Cost Controller
  • Relationship Manager
  • Paraplanning Manager

सीएफपी करने के बाद सैलरी? | Salary After Doing CFP

पदप्रति साल सैलरी
Financial Manager8 लाख
Financial Advisor4.5 लाख
Financial Planner6 लाख
Portfolio Manager9 लाख
Cost Controller6.5 लाख
Research Analyst4 लाख

निष्कर्ष:

इस लंबे आर्टिकल में हमने आपके साथ CFP Course Details in Hindi के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की है। CFP एक उच्च कोटि का कोर्स है जो आपको financial के फील्ड में एक बढ़िया करियर बनाने का मौका प्रदान करता है।

यदि आप financial के फील्ड में अपना करियर बनाकर लोगों को वित्तीय सलाह प्रदान करके उनकी जिंदगी में सकारात्मक परिवर्तन लाना चाहते है, तो सीएफपी कोर्स आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प है।

CFP Course Details in Hindi के बारे में सामान्य प्रश्न

सीएफपी कोर्स करने में कितना खर्चा आता है।

सीएफपी कोर्स करने में औसतन ₹40000 से ₹60000 तक का खर्चा आ सकता है। सीएफपी कोर्स उनके लिए है जो एक financial advisors बनना चाहते हैं।

क्या सीएफपी कोर्स भारत मे करना लाभदायक है?

हाँ! सीएफपी कोर्स भारत मे करना काफी लाभदायक है क्योकि भारत मे Investment Planning, Wealth Management, Risk और Insurance Planning जैसे नौकरियों का डिमांड दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

सीएफपी कोर्स करने के बाद जॉब में सैलरी कितनी मिल सकती हैं?

भारत मे सीएफपी कोर्स करने के बाद मिलने वाली जॉब की औसत सैलरी 3 से 6 लाख प्रति साल के लिए हो सकती हैं। समय के साथ साथ अनुभव होने पर यह सैलरी और अधिक हो सकती हैं।

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

3 thoughts on “CFP Course Details: फायनेंशियल प्लानर बनने का आधुनिक मार्ग।”

Leave a Comment

error: Content is protected !!