ITI Electrician Course Details in Hindi: सब कुछ जानें?

इस लेख की रूपरेखा:

भारत मे हर साल बहुत सारे विद्यार्थी ITI का कोर्स करते है। विद्यार्थी को लगता है कि यदि हम ITI का कोर्स कर लेते है तो आने वाले समय मे इस कोर्स के माध्यम से हमको कोई अच्छी नौकरी मिल सकती है।

भारत मे कई सारे ऐसे लोग है जो ITI का कोर्स करके आज एक अच्छी नौकरी कर रहे है। आईटीआई का कोर्स करने के बाद आपको अच्छी नौकरी तभी मिलेगी। जब आप एक सही Trade लेकर आईटीआई का कोर्स करेगें।

कई एक्सपर्ट का मानना है कि आईटीआई इलेक्ट्रीशियन ट्रेड एक ऐसा ट्रेड होता है जिसके द्वारा यदि आप पढ़ाई करते है तो आने वाले समय मे आपको एक बढ़िया नौकरी मिलने का अवसर अधिक होता है। इस आर्टिकल में हम आपको ITI Electrician Course Details in Hindi के बारे में हर एक चीज़ पूरी विस्तार से बताने की कोशिश करेगें।

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन क्या है | What is ITI Electrician in Hindi

What is ITI Electrician

 

इलेक्ट्रीशियन आईटीआई का एक ट्रेड होता है। जिसको लोगो को आईटीआई का कोर्स करते समय चुनना होता है। यह एक तरह का एक इंजीनियरिंग ट्रेड होता है। जब लोगो आईटीआई कोर्स करने के लिए सोचते है तो ट्रेड में उनकी पहली ही होता है। भारत मे इलेक्ट्रीशियन की मांग बहुत ज्यादा है।

यदि आप आईटीआई का कोर्स इलेक्ट्रीशियन ट्रेड लेकर करते है तो आगे चलकर आप एक इलेक्ट्रीशियन बन सकते है। आईटीआई इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में आपको विद्युत उपकरण, फिटिंग, रिपेयरिंग और इंस्टॉलिंग जैसी चीज़ों के बारे में पढ़ाया और सिखाया जाता है।

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में आपको बिजली के उपकरणों से जुड़े हर एक काम को करना सिखाया जाता है। यदि आप आईटीआई इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में डिप्लोमा की डिग्री ले लेते है तो आप, बिजली उत्पादन, रखरखाव सेवाएं और विद्युत अनुबंध जैसे जगहों पर आराम से जॉब पा सकते है। इन जगहों पर जॉब मिलने के बाद आपको इलेक्ट्रीशियन और इलेक्ट्रिकल तकनीशियन के रूप में काम करना पड़ता है।

 

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन में एडमिशन योग्यता क्या होती है | Qualification For ITI Electrician?

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में एडमिशन लेने के लिए आपको किसी मान्यता प्राप्त शैक्षिक बोर्ड से 10वीं पास करना जरूरी है। इनके अलावा आपके 10वीं में मैथ और विज्ञान विषय का होना भी जरूरी है। इसके साथ साथ आपको आईटीआई इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में एडमिशन लेने के लिए आपकी उम्र 14-40 साल के बीच मे भी होनी जरूरी है।

भारत मे आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए प्रवेश परीक्षा देना पड़ता है। यदि आप प्रवेश परीक्षा पास कर लेते है उसके बाद ही आपका एडमिसन होता है। प्रवेश परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है।

जो व्यक्ति आईटीआई इलेक्ट्रीशियन में एडमिसन लेने जा रहा है वह शारीरिक रूप से विकलांग ना हो। विकलांग होने पर आपको एडमिसन लेने में दिक्कत हो सकती है। इन सभी के अलावा एडमिसन के लिए आपके पास जरूरी दस्तावेज होना भी बहुत जरूरी है।

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स फीस? | ITI Electrician Course Fees

भारत के सभी आईटीआई संस्थानों में आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स फीस और समय अलग अलग होते है। आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के डिप्लोमा कोर्स करने का समय 2 साल तक होता है। भारत के हर एक राज्य की आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स की फीस अलग अलग होती है।

भारत में आईटीआई इलेक्ट्रीशियन का कोर्स आप प्राइवेट और सरकारी दोनों संस्थानों से कर सकते है। प्राइवेट संस्थानों के मुकाबले सरकारी संस्थानों में फीस कम लगती है।

इसको भी पढ़े-   MSW Course Details in Hindi: MSW कोर्स क्या है? पूरी जानकारी

सरकारी संस्थानों में आईटीआई इलेक्ट्रीशियन का कोर्स करने के लिए आपको 2000-10000 रुपये प्रति साल देना पड़ सकता है। वही प्राइवेट संस्थानों में आईटीआई इलेक्ट्रीशियन का कोर्स करने के लिए आपको 15000-40000 रुपये प्रति साल तक देना पड़ सकता है। आप अपनी जाति प्रमाण पत्र और आय प्रमाण पत्र को लगाकर इन फीस में भी छूट पा सकते है।

फीस के अलावा आपके और भी कई सारे खर्चे होते है जैसे study materials, uniforms, tools, equipment और अन्य practical training फीस उनमे से मुख्य है।

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स कितने साल का होता है?

आईटीआई में जितने भी ट्रेड होते है उन सभी ट्रेड कोर्स की अवधि अलग अलग होते है! आईटीआई में इलेक्ट्रीशियन का ट्रेड एक काफी प्रसिद्ध ट्रेड है! भारत में बहुत से स्टूडेंट आईटीआई में इलेक्ट्रीशियन ट्रेड से पढाई करके अपना एक उच्च कोटि का करियर बना रहे है!

यदि आप जानना चाहते है की आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स कितने साल का होता है तो हम आपको बता दे की आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स की अवधि 2 साल की होती है! इन 2 सालो में स्टूडेंट को आईटीआई ट्रेड के बारे में उच्च कोटि का ज्ञान दिया जाता है!

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन पाठ्यक्रम | ITI Electrician Syllabus

ITI Electrician Syllabus in Hindi

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन का कोर्स 4 सेमेस्टर में पढ़ाया जाता है। हर एक सेमेस्टर में अलग अलग पाठ्यक्रम को पढ़ाया जाता है। इन सभी सेमेस्टर में थ्योरी और प्रैक्टिकल को पूरे विस्तार से पढ़ाया जाता है। इन सेमेस्टर के बारे में पूरी जानकारी निचे दी गई है।

 

सेमेस्टर 1:-

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड थ्योरी

  • व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य ( Occupational Safety & Health )
  • सॉफ्ट स्किल्स ( Soft Skills )
  • बिजली ( Electricity )
  • प्रतिरोध, सोल्डर, फ्लक्स ( Resistors, Solders, Flux )
  • कंडक्टर, इंसुलेटर और सेमी-कंडक्टर ( Conductors, Insulators and Semi-Conductors )
  • किरचॉफ का नियम ( Kirchoff’s Law )
  • इलेक्ट्रोलीज़ ( Electrolysis )
  • प्रकोष्ठों ( Cells )
  • चुंबकत्व ( Magnetism )
  • प्रत्यावर्ती धारा (एसी) ( Alternating Current (AC) )
  • ग्राउंडिंग ( Earthing )
  • बेसिक इलेक्ट्रॉनिक्स ( Basic Electronics )

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड प्रैक्टिकल

  • स्वास्थ्य, सुरक्षा और पर्यावरण ( Health, Safety and Environment )
  • टांकने की क्रिया ( Soldering )
  • ओम के नियम का सत्यापन ( Verification of Ohm’s Law )
  • प्रतिरोध का मापन ( Measuring of Resistance )
  • विद्युत सहायक उपकरण की स्थापना ( Installation of Electrical Accessories )
  • चुंबकीय क्षेत्र को ट्रेस करें ( Trace the Magnetic Field )
  • चुंबकीय कम्पास का उपयोग ( Use of Magnetic Compass )
  • एसी सर्किट ( AC Circuits )
  • अर्थिंग पर अभ्यास करें ( Practice on Earthing )
  • डायोड ( Diodes )

सेमेस्टर 2:-

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड थ्योरी

  • आस्टसीलस्कप ( Oscilloscope )
  • ट्रांजिस्टर ( Transistor )
  • एम्पलीफायरों ( Amplifiers )
  • बहुकंपित्र ( Multivibrator )
  • डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स ( Digital Electronics )
  • बिजली की तारें ( Electric Wirings )
  • वायरिंग सिस्टम ( Wiring System )
  • डीसी मशीनें, डीसी जेनरेटर का सिद्धांत, ई.एम.एफ ( DC Machines, Principle of DC Generator, E.M.F )
  • डीसी मोटर्स ( DC Motors )
  • ट्रांसफार्मर ( Transformer )
  • विद्युत मापने के उपकरण ( Electrical Measuring Instruments )

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड प्रैक्टिकल

  • रेक्टीफायर्स, ट्रांजिस्टर, एम्पलीफायर, ऑसिलोस्कोप (Rectifiers, Transistor, Amplifier, Oscilloscope)
  • डीसी मशीन, जनरेटर ( DC Machine, Generator )
  • डीसी जनरेटर, डीसी मोटर ( DC Generator, DC Motor )
  • ट्रान्सफ़ॉर्मर ( Transformers )
  • मीटर की दूरी पर ( Meters )

सेमेस्टर 3:-

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड थ्योरी

  • थ्री फेज इंडक्शन मोटर ( Three Phase Induction Motor )
  • सिंगल फेज इंडक्शन मोटर ( Single Phase Induction Motor )
  • यूनिवर्सल मोटर ( Universal Motor )
  • आवर्तित्र ( Alternator )
  • तुल्यकालिक मोटर ( Synchronous Motor )
  • ट्रांसफार्मर वाइंडिंग ( Transformer Winding )
  • डीसी मशीन वाइंडिंग ( DC Machine Winding )
  • एसी मशीन वाइंडिंग ( AC Machine Winding )
  • रोशनी ( Illumination )
  • औद्योगिक तारों ( Industrial Wiring )

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड प्रैक्टिकल

  • एसी मोटर्स के टर्मिनल (Terminals of AC Motors )
  • प्रेरण मोटर्स ( Induction Motors )
  • अल्टरनेटर के टर्मिनल ( Terminals of Alternator )
  • अल्टरनेटर का रखरखाव ( Maintenance of Alternators )
  • तुल्यकालिक मोटर ( Synchronous Motor )
  • मोटर जनरेटर ( Motor Generator )
  • विद्युत नियुक्ति ( Electrical Installation )

सेमेस्टर 4:-

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड थ्योरी

  • मशीन नियंत्रण कैबिनेट ( Machine Control Cabinet )
  • नियंत्रण तत्व ( Control Elements )
  • घरेलू उपकरण ( Domestic Appliances )
  • विद्युत उत्पादन ( Power Generation )
  • हाइड्रो इलेक्ट्रिक ( Hydro Electric )
  • नाभिकीय ( Nuclear )
  • विद्युत शक्ति का संचरण ( Transmission of Electrical Power )
  • अंडर ग्राउंड केबल ( Under Ground Cable )
  • शक्ति का वितरण ( Distribution of Power )

इलेक्ट्रीशियन ट्रेड प्रैक्टिकल

  • मशीन नियंत्रण कैबिनेट ( Machine Control Cabinet )
  • नियंत्रण कैबिनेट और पैनल की तैयारी ( Preparation of Control Cabinet & Panel )
  • कंट्रोल एलिमेंट्स और वायरिंग एक्सेसरीज की माउंटिंग ( Mounting of Control Elements & Wiring Accessories )
  • परमाणु ऊर्जा संयंत्र सिम्युलेटर का अभ्यास ( The practice of Nuclear Power Plant Simulator )
  • हस्तांतरण ( Transmission )
  • डीसी मोटर का गति नियंत्रण ( Speed Control of DC Motor )
  • एसी मोटर का गति नियंत्रण ( Speed Control of AC Motor )

इन सभी पाठ्यक्रम की पढ़ाई ITI Electrician में पढ़ाई जाता है। ITI Electrician Syllabus को हमने आपको ऊपर विस्तार से पूरे सेमेस्टर वाइज बताया है। मुझे उम्मीद है कि ITI Electrician Syllabus in Hindi की ये जानकारी आपको पसंद आई होगी।

इसको भी पढ़े-   DNYS Course Details: DNYS कोर्स क्या होता है? पूरी जानकारी

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन सैलरी कितना होता है? | ITI Electrician Salary

भारत में आईटीआई इलेक्ट्रिशियन का वेतन उसके अनुभव, कौशल, स्थान और उद्योग पर निर्भर करता है। फिर भी हम आपको एक औसत रूप में वेतन बताने की कोशिश करते है।

यदि आप एकदम नये आईटीआई इलेक्ट्रिशियन है और आपको अभी कोई अनुभव नही है तो इस स्तिथि में आपको 10000-15000 रुपये प्रति महीना तक वेतन वाला जॉब मिल सकता है।

यदि आपको आईटीआई इलेक्ट्रिशियन में अनुभव के साथ साथ अर्जित कौशल भी है तो इस स्तिथि में आपको 15000-25000 रुपये महीना तक कि सैलरी मिल सकती है।

यदि आप किसी सरकारी क्षेत्र में इलेक्ट्रिशियन का जॉब करते है तो इस स्तिथि में आपको 20000-40000 रुपये प्रति महीना या फिर इससे ज्यादा भी मिल सकता है। इसके साथ साथ आपको कई तरह के भत्ता भी मिलेगा।

इस बात का आपको विशेष ध्यान देना होगा कि ऊपर हमने एक अनुमानित वेतन को बताया है। इन वेतन में कुछ कम और ज्यादा होने का पूरा चांस है। मुझे पूरी उम्मीद है कि अब तक आपको ITI Electrician Salary के बारे में अच्छी जानकारी हो गई होगी।

 

इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने के क्या फायदे हैं? | Electrician Se ITI Karne Ke Fayde

भारत मे इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने के कई सारे फायदे है। इनके कुछ मुख्य फायदे को यहां पर हम आपके साथ शेयर करने जा रहे है। उम्मीद है ये फायदे आपको पसंद आयेगी।

  • यदि आप इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करते है तो आपको रोजगार के विभिन्न अवसर मिलते है। आप इस कोर्स के माध्यम से प्राइवेट या फिर सरकारी विभाग में नौकरी ले सकते है।
  • जब आप इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करते है तब आपको बिजली के संबंधित कार्य की बहुत ही अच्छी जानकारी हो जाती है। इस कौसल की वजह से आप कई सारे काम कर सकते है।
  • आज के समय मे भारत मे इलेक्ट्रीशियन की मांग बहुत ही तेजी से बढ़ रही है। इसलिए आप इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करके अपने लिए एक बेहतरीन नौकरी ले सकते है।
  • इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने पर आपके अंदर बिजली के संबंधित उपकरणों, मशीनों, और सामग्री का बहुत ही अच्छा ज्ञान हो जाता है। इस ज्ञान की मदद से आप एक शॉप को खोलकर अपना एक बढ़िया व्यापार शुरू कर सकते है।
  • इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने के बाद आप पर इलेक्ट्रिकल सर्विस, मेंटेनेंस इंजीनियर और इलेक्ट्रिकल कंसल्टेंट के रूप में जॉब कर सकते है। इसके साथ साथ आप खुद का व्यापार भी शुरू कर सकते है।
  • जब आप इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई कर लेते है उसके बाद आपके अंदर स्वास्थ्य और सुरक्षा के मामले में और अधिक जानकारी हो जाती है। जिसके कारण आप अपने खुद के काम को और सुरक्षित और नियमित ढंग से करते है।
  • इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने के बाद आपको एक प्रमाणपत्र भी मिलता है। इस प्रमाणपत्र का आशय ये होता है कि आप इलेक्ट्रीशियन विभाग में पूर्णरूप से एक्सपर्ट है।

इन सभी फायदे के अलावा और भी कई सारे फायदे है इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने के। मुझे उम्मीद है कि इन सभी फायदे को जानने के बाद आपका भी मन इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने का बना होगा।

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के बाद कौन सी नौकरी सबसे अच्छी है?

भारत मे इलेक्ट्रीशियन से आईटीआई करने के बाद कई सारी नौकरी आपको मिल सकती है। यदि आप इस चीज़ को जानने के काफी इछुक है कि आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के बाद कौन सी नौकरी सबसे अच्छी है तो वह सभी नौकरियों को हम आपके साथ यहां शेयर करने जा रहे है।

  • विद्युतीय तकनीशियन ( Electrical Technician )
  • बिजली मिस्त्री ( Electrician )
  • रखरखाव तकनीकी अधिकारी( Maintenance Technician )
  • नियंत्रण कक्ष तकनीशियन ( Control Panel Technician )
  • विद्युत पर्यवेक्षक ( Electrical Supervisor )
  • विद्युत ठेकेदार ( Electrical Contractor )
  • इलेक्ट्रिक मशीन ऑपरेटर
  • रिपेयर एक्सपर्ट
  • सुपरवाइजर
  • सरकारी नौकरियों ( Government Jobs )

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन करने के बाद क्या कर सकते हैं?

जब आप आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के कोर्स को पूरा कर लेते है उसके बाद आपके दिमाक में ये बात जरूर आती होगी कि अब हमको आगे क्या करना चाहिए। यदि आप भी इसको लेकर कंफ्यूज है तो यहाँ हम आपके सामने कुछ विकल्प को शेयर कर रहे है जिसको आप आईटीआई इलेक्ट्रीशियन का कोर्स करने के बाद कर सकते है।

 

1. हायर एजुकेशन:-

यदि आप आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के बाद और उच्च कोटि की पढ़ाई करना चाहते है तो उसके लिए आपके पास कई सारे विकल्प होते है। जिसमे पॉलिटेक्निक और आईटीआई का CTI कोर्स मुख्य है।

इसको भी पढ़े-   BSMS Course Details in Hindi: BSMS क्या होता है? सब कुछ जाने

पॉलिटेक्निक एक डिप्लोमा कोर्स होता है जिसमे आप आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के बाद एडमिसन ले सकते है जबकि CTI भी एक अच्छा कोर्स है। CTI का कोर्स करके आप एक सरकारी या प्राइवेट ITI कॉलेज में एक टीचर के रूप में जॉब पा सकते है।

 

2. जॉब कर सकते है:-

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन की पढ़ाई पूरा करने पर आपको कई तरह के प्राइवेट और सरकारी कंपनियों में इलेक्ट्रीशियन की जॉब आसानी से मिल सकती है।

रेलवे, लिमिटेड कंपनियां, पावरहाउस, बीएचईएल और बीईएल जैसी सरकारी कंपनियों में इलेक्ट्रीशियन के पदों के लिए समय समय पर वेकैंसी निकलती रहती है। आप इनमें आवेदन करके अपने लिए एक सरकारी नौकरी भी ले सकते है।

 

3. खुद का व्यापार शुरू कर सकते है:-

यदि आपको सरकारी या प्राइवेट जॉब करने में रुचि नही है तो आप अपना खुद का व्यापार भी शुरू कर सकते है। आपने आईटीआई इलेक्ट्रीशियन की पढ़ाई करते समय जो भी ज्ञान पाया होगा उसके उपयोग से आप अपना खुद का व्यापार शुरू करके खुद के मालिक बन सकते है।

 

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन सैलरी इन दुबई? | ITI Electrician Salary in Dubai

दुबई में इलेक्ट्रीशियन की सैलरी अलग अलग होती है। यदि आप एकदम नये इलेक्ट्रीशियन और आपको कोई अनुभव नही है तब आपकी सैलरी 40000- 80000 रुपये प्रति महीना तक हो सकती है।

वही यदि आप एक अनुभवी इलेक्ट्रीशियन है तो इस स्तिथि में आपकी सैलरी 80000-150000 रुपये प्रति महीना तक हो सकती है।

दुबई में वरिष्ठ इलेक्ट्रीशियन जिनको बहुत अच्छा अनुभव होता है। उनकी सैलरी बहुत ज्यादा होती है। एक वरिष्ठ इलेक्ट्रीशियन की सैलरी दुबई में 150000-300000 रुपये प्रति महीना तक होती है।

 

क्या इलेक्ट्रीशियन भारत में अच्छा पैसा कमाते हैं?

अन्य देशों के मुकाबले भारत मे इलेक्ट्रीशियन की सैलरी बहुत कम होती है। हमने आपको ऊपर दुबई के बारे में बताया है जहां पर इलेक्ट्रीशियन लाखों में कमाते है। लेकिन इंडिया में ऐसा नही है।

इंडिया में एक नया इलेक्ट्रीशियन प्रति महीना केवल 10000-25000 रुपये तक ही कमा पता है। वही एक अनुभवी इलेक्ट्रीशियन भारत मे प्रति महीना 25000-40000 रुपये तक ही कमा पता है।

भारत मे बेरोजगारी बहुत ज्यादा है जिसकी वजह से एक इलेक्ट्रीशियन की सैलरी भी कम है। इसलिए यदि आपको एक इलेक्ट्रीशियन के रूप में ज्यादा पैसे कमाना है तो आपको विदेशो में दुबई जैसे जगहों पर जाना पड़ेगा।

निष्कर्ष:-

हम उम्मीद करते है कि अब तक अपने इस पूरे आर्टिकल को पढ़ लिया होगा। अब तक आपको आईटीआई इलेक्ट्रीशियन क्या होता है, ITI Electrician Course Details in Hindi, आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स फीस और अवधि और आईटीआई इलेक्ट्रीशियन पाठ्यक्रम जैसी और भी कई महत्वपूर्ण चीज़ों के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो गई होगी।

यदि आपको आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के बारे दी गई ये सारी जानकारी पसंद आई हो तो इसको अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें। इसके साथ यदि आईटीआई इलेक्ट्रीशियन के बारे आपका कोई सवाल हो तो आप कमेंट के माध्यम से जरूर पूछे। हम आपके सवाल का जबाब 24 घंटे के अंदर देने की कोशिश करेगें।

 

ITI Electrician Course Details in Hindi के बारे में FAQ

क्या इलेक्ट्रीशियन का काम खतरनाक है?

इलेक्ट्रीशियन का काम उच्च वोल्टेज विद्युत प्रणालियों और उपकरणों के साथ काम करने से बिजली के झटके, जलने और दुर्घटनाओं के खतरे की वजह से बहुत खतरनाक होता है।

सरकारी नौकरी के लिए कौन सा आईटीआई ट्रेड सबसे अच्छा है?

भारत मे सरकारी नौकरी के लिए सबसे बढ़िया आईटीआई ट्रेड इलेक्ट्रीशियन, फिटर, मैकेनिक (मोटर वाहन), और वेल्डर है। इन सभी ट्रेड का सरकारी विभाग में बहुत ज्यादा मांग है।

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स की अवधि क्या है?

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन एक डिप्लोमा कोर्स है जिसको करने में 2 साल का समय लगता है। इन 2 सालो में कुल 4 सेमस्टर की थ्योरी और प्रैक्टिकल ज्ञान विद्यार्थी को दिया जाता है।

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स में क्या-क्या पढ़ाया जाता है?

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन कोर्स में मुख्य रूप से बुनियादी विद्युत प्रणाली और यूनिट्स, इलेक्ट्रिकल वायरिंग के नियम और प्रक्रिया, मोटर और जनरेटर की मरम्मत और सुरक्षा, इलेक्ट्रिकल प्रोटेक्शन और सुरक्षा उपकरण, इलेक्ट्रिकल नेटवर्क्स के लिए डिजाइन और स्थापना और इलेक्ट्रिकल मीटरिंग और मीटरों की परिकल्पना के बारे में पढ़ाया जाता है।

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

आईटीआई इलेक्ट्रीशियन में मुख्य रूप से बेसिक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल वायरिंग और इंस्टालेशन, इलेक्ट्रिकल मशीनरी की रखरखाव और मरम्मत, इलेक्ट्रिकल ट्रोली और पैनल में काम करन, इलेक्ट्रिकल सुरक्षा और नियम, विद्युत संचार और नेटवर्किंग और इलेक्ट्रिकल माप और परीक्षण के बारे में गहराई से ज्ञान दिया जाता है!

मेरा नाम सद्दाम हुसैन है और मैं इस ब्लॉग का फाउंडर और कंटेंट राइटर हूँ। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन, सरकारी नौकरी, जॉब, कैरियर, बिजनेस, कोर्सेज और सेलेबस से रिलेटेड हर नई और महत्वपूर्ण लेख को रेगुलर बेसिक पर प्रकाशित करता रहता हूँ।

7 thoughts on “ITI Electrician Course Details in Hindi: सब कुछ जानें?”

  1. Aur han ITI karne ke bad electrician ITI karne ke bad kis category mein electrical ke kis category mein kam Karen jismein Paisa jyada Kama saken ya salary jyada ho

    Reply
  2. दुबई में नौकरी कैसे ले हम भारतीय हैं हमें दुबई के कंपनी से या आदमी से पहचान नहीं है

    Reply
  3. Hi mujhe job ki talash he to kirpa karke muje job dilayea me bahut gareeb garse hu me and my family
    Rent rehte hamara khud ka gar bi nahi he hame gar se begar kar diya he please madad kariye

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!